इन पांच स्पिनरों को आगामी मेगा ऑक्शन में मिल सकती है मोटी रकम - क्रिकट्रैकर हिंदी

इन पांच स्पिनरों को आगामी मेगा ऑक्शन में मिल सकती है मोटी रकम

मेगा ऑक्शन का आयोजन फरवरी 2022 में किया जा सकता है।

Hayden Walsh Jr. West Indies
Hayden Walsh Jr.. (Photo by Randy Brooks – CPL T20/CPL T20 via Getty Images)

मौजूदा क्रिकेट को देखकर यह कहना गलत नहीं होगा कि टी-20 क्रिकेट ने सभी प्रकार के स्पिनरों को उच्च स्तरीय क्रिकेट में वापसी करने में मदद की है। यह शायद एक ऐसा परिदृश्य था जहां स्पिनर खेल से दूर हो रहे थे। टी-20 एक ऐसा खेल है जहां बल्लेबाजों पर हमेशा स्कोरिंग रेट बढ़ाने और बोर्ड पर अच्छा स्कोर करने के लिए बड़े शॉट खेलने का दबाव होता है, और तभी स्पिनर खेल में आते हैं।

खेल के सबसे छोटे प्रारूप के इतिहास में स्पिनरों ने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। खेल के अधिक उन्नत होने और भारत में टर्निंग ट्रैक के साथ कई नई विविधताओं के आने के साथ, स्पिनरों का महत्व भी बढ़ रहा है। आने वाले आईपीएल सीजन में सभी की निगाहें स्पिनरों पर भी होंगी। रिकॉर्ड के अनुसार, आईपीएल के इतिहास में शीर्ष 10 विकेट लेने वालों में से छह स्पिनर हैं, और अमित मिश्रा, सुनील नरेन और राशिद खान ने साबित कर दिया है कि स्पिनरों के बारे में इतना बात क्यों किया जाता है।

सभी फ्रेंचाइजी को अपने टीम में एक अच्छे स्पिनर की आवश्यकता होगी जो उनके लिए स्ट्राइक गेंदबाज के रूप में इस्तेमाल किया जा सके। हाल के वर्षों में, वरुण चक्रवर्ती और मुजीब उर रहमान जैसे उच्च स्तरीय स्पिनरों ने बल्लेबाजों को चकमा देने में कामयाब रहे हैं।

आइए बात करते हैं कुछ ऐसे स्पिनर के बारे में जो आगामी मेगा ऑक्शन में काफी मोटी रकम हासिल कर सकते हैं

1) जैक लिंटॉट

Jake Lintott. (Photo by Christopher Lee – ECB/ECB via Getty Images)
Jake Lintott. (Photo by Christopher Lee – ECB/ECB via Getty Images)

इंग्लिश क्रिकेट में क्रांति आने के बाद से, वो कुछ गुणवत्ता वाले टी-20 क्रिकेटरों को सामने ला रहे हैं, और जैकब बेनेडिक्ट लिंटॉट उनमें से एक हैं। हैम्पशायर का ये क्रिकेटर एक चाइनामैन गेंदबाज है, और वह लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहा है और जिस प्रकार का उनके पास वेरिएशन है उसको देखते हुए वह साथ किसी भी फ्रेंचाइजी के लिए एक अच्छा सौदा हो सकते हैं।

28 वर्षीय ने अपना टी-20 डेब्यू 2017 नेटवेस्ट टी-20 ब्लास्ट में किया था। अब तक, उन्होंने 38 टी-20 मैच खेले हैं और 20.84 की प्रभावशाली गेंदबाजी औसत के साथ 44 विकेट लिए हैं। इंग्लिश बल्लेबाजों ने 2018 के दौरे के लिए कुलदीप यादव की तैयारी के लिए उनका इस्तेमाल करने की कोशिश की, लेकिन वह उपलब्ध नहीं थे।

चाइनामैन गेंदबाज  किसी बड़ी टी-20 लीग में हिस्सा लेते हुए नहीं दिखे हैं और इस प्रकार, वह अब तक अनदेखी और अप्रत्याशित है। ऐसे में अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या कोई फ्रेंचाइजी उनमें दिलचस्पी दिखाती है और अगर उन्हें चुना जाता है तो वह इस लीग में कैसा प्रदर्शन करते हैं।