मैं हमेशा से बेन स्टोक्स जैसा बनना चाहता हूं, वो कमाल के खिलाड़ी हैं: सैम करन - क्रिकट्रैकर हिंदी

मैं हमेशा से बेन स्टोक्स जैसा बनना चाहता हूं, वो कमाल के खिलाड़ी हैं: सैम करन

भले ही बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट को अलविदा कह दिया है लेकिन इंग्लैंड के वो हमेशा बेहतरीन ऑलराउंडर में से एक रहेंगे: सैम करन

Sam Curran
Sam Curran. (Photo by Philip Brown/Getty Images)

इंग्लैंड के बेहतरीन ऑलराउंडर सैम करन ने कहा है कि वो स्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स की नकल करने की कोशिश करते हैं क्योंकि वो स्टोक्स को अपना आदर्श मानते हैं। चोट से उबरने के बाद इंग्लैंड टीम में वापसी कर चुके सैम करन का मानना है कि बेन स्टोक्स के वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद अब टीम में उनकी जगह पूरी तरह से खाली हो चुकी है। स्टोक्स की तरह खेलना तो काफी मुश्किल है लेकिन वो अपने बेहतरीन प्रदर्शन से इंग्लैंड टीम और प्रशंसक को वनडे क्रिकेट में उनकी कमी नहीं खलने देंगे।

बता दें, हाल ही में बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। उनकी माने तो वर्कलोड बढ़ने की वजह से उन्होंने यह फैसला लिया है, साथ ही अब वो बाकी दो फॉर्मेटों पर फोकस कर सकते हैं और इंग्लैंड टीम को अपने बेहतरीन प्रदर्शन से मुकाबले जिता सकते हैं।

इस समय इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मुकाबलों की वनडे सीरीज खेली जा रही है। दो मुकाबले खेले जा चुके हैं और दोनों टीमों ने 1-1 मुकाबला जीता है। आज यानी 24 जुलाई को दोनों टीमों के बीच तीसरा और आखिरी वनडे मुकाबला लीड्स में खेला जाना है। स्टोक्स ने इस सीरीज के पहले मुकाबले के बाद संन्यास ले लिया था।

अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी से मैं टीम के लिए योगदान देना चाहता हूं: सैम करन

द क्रिकेटर के मुताबिक सैम करन ने कहा कि, ‘मैंने हमेशा एक क्रिकेटर के रूप में स्टोक्स को खेलते हुए देखा है। मैं हमेशा उनकी नकल उतारना चाहता हूं। उन्हें वनडे क्रिकेट से संन्यास ले लिया है और सभी खिलाड़ी उन्हें काफी याद करेंगे। मैं ज्यादा आगे की नहीं सोच रहा लेकिन जब तक मैं खेल रहा हूं तब तक टीम के लिए बल्लेबाजी और गेंदबाजी से अपना योगदान देना चाहता हूं।

करन ने आगे कहा कि, ‘मैंने हमेशा उनको तैयारी करते हुए देखा है और जिस तरीके से वो खेलते है उसको समझा है। भले ही उन्होंने वनडे क्रिकेट को अलविदा कह दिया है लेकिन इंग्लैंड के वो हमेशा बेहतरीन ऑलराउंडर में से एक रहेंगे। लेकिन मैं हमेशा सकारात्मक रहना चाहता हूं, यही संदेश बटलर ने मुझे और बाकी टीम के खिलाड़ियों को दिया है। यह सच्चाई है कि बेन स्टोक्स के टीम में ना रहने से काफी फर्क देखने को मिलेगा।

करन ने आगे कहा कि, ‘एक अनुभवी ऑलराउंडर जिसने इंग्लैंड टीम के लिए 100 मुकाबले खेले हैं अब वो इंग्लैंड टेस्ट टीम की कप्तानी कर रहे हैं। जो अनुभव वो हमसे बांटते हैं और हमें समझाते हैं उसको सुनकर हमें काफी अच्छा लगता है।