धर्म के नाम पर किसी को निशाना बनाना सबसे बेहूदा काम है - विराट कोहली - क्रिकट्रैकर हिंदी

धर्म के नाम पर किसी को निशाना बनाना सबसे बेहूदा काम है – विराट कोहली

पाकिस्तान के खिलाफ हार के बाद सोशल मीडिया पर कई फैंस ने मोहम्मद शमी को उनके धर्म की वजह से निशाना बनाया था।

Virat Kohli & Mohammed Shami (Photo Source - Twitter)
Virat Kohli & Mohammed Shami (Photo Source – Twitter)

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में भारतीय टीम के अभियान की शुरुआत उम्मीद के अनुसार देखने को नहीं मिली जिसमें टीम को अपने पहले ही मुकाबले में चिर-प्रतिद्वंदी पाकिस्तान के खिलाफ 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। अब भारतीय टीम को टूर्नामेंट में अपना अगला मुकाबला 31 अक्टूबर को न्यूजीलैंड के खिलाफ दुबई के मैदान में खेला है, जिसमें सेमीफाइनल की नजर से जीत हासिल करना काफी जरूरी हो गया है।

पाकिस्तान के खिलाफ हार के बाद सोशल मीडिया पर भारतीय फैंस का काफी गुस्सा भी देखने को मिला था, लेकिन उसमें जो सबसे खराब पहलू था, वह तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी पर उनके धर्म को लेकर निशाना बनाना था। अब इस मामले पर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि, यह सबसे बेहूदा चीज है जिसमें किसी को उसके धर्म की वजह से निशाना बनाया जाता है। काफी सारे लोग सोशल मीडिया पर अपनी पहचान छुपाते हुए खिलाड़ियों को ट्रोल करने की कोशिश करते हैं जो सबसे बेहद ही खराब है।

कप्तान विराट कोहली ने अपने बयान में कहा कि, किसी को उसके धर्म की वजह से निशाना बनाना काफी खराब चीज है। सभी को अपनी बात रखने का पूरा हक है, लेकिन मैं निजी तौर पर कहना चाहता हूं कि आप किसी को उसके धर्म की वजह से नहीं निशाना बना सकते हैं। ऐसा करना किसी भी व्यक्ति के जीवन के सबसे खराब काम में से एक है।

उन लोगों को नहीं पता कि हम फील्ड पर कितनी मेहनत करते हैं

अपने बयान में विराट कोहली ने आगे कहा कि, लोग अपना गुस्सा जाहिर करने के लिए ऐसी हरकते करते हैं, लेकिन उन्हें पता नहीं होता कि हम फील्ड पर कितनी मेहनत करते हैं। उन लोगों को इस बात को समझना चाहिए कि मोहम्मद शमी जैसे खिलाड़ी ने हमें न जाने कितने मैचों में पहले जीत दिलाई है। वहीं, पिछले कुछ सालों से वह जसप्रीत बुमराह के साथ हमारे प्रमुख गेंदबाज रहे हैं।

हम एक ग्रुप में रहने के साथ इस बात को बेहतर तरह से समझते हैं कि हमें किसी तरह से इन चीजों से निपटना है और कैसे सभी का साथ देना है। हमारी पूरी टीम इस समय शमी के साथ है और जो उनकी आलोचना कर रहे हैं, उन्हें थोड़ा होमवर्क करके आना चाहिए। एक कप्तान होने के नाते मैं आपसे यह कह सकता हूं कि टीम के अंदर इस तरह की बातों को लेकर कोई भी चर्चा नहीं होती है।