IPL ने करवाई दीपक हुड्डा और क्रुणाल के बीच दोस्ती, जिसका फायदा अब मिल सकता है बड़ौदा को - क्रिकट्रैकर हिंदी

IPL ने करवाई दीपक हुड्डा और क्रुणाल के बीच दोस्ती, जिसका फायदा अब मिल सकता है बड़ौदा को

आईपीएल 2022 में दीपक हुड्डा और क्रुणाल पांड्या लखनऊ की टीम का हिस्सा हैं।

Deepak Hooda and Krunal Pandya. (Photo Source: Disney+Hotstar)
Deepak Hooda and Krunal Pandya. (Photo Source: Disney+Hotstar)

क्रिकेट जगत से जुडी एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि, बड़ौदा क्रिकेट संघ (बीसीए) ने भारतीय ऑलराउंडर दीपक हुड्डा से बड़ौदा टीम में लौटने के लिए संपर्क किया है, क्योंकि वह अपने साथी क्रुणाल पांड्या के साथ हुए विवाद के बाद उस टीम को छोड़कर राजस्थान के लिए खेलने लगे थे। लेकिन अब कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों फिर से एक साथ बड़ौदा के लिए खेलते हुए दिख सकते हैं।

क्रुणाल पर दीपक हुड्डा ने लगाया था गालियां देने का आरोप

साल 2021 में सैय्यद मुश्‍ताक अली ट्रॉफी के दौरान कुणाल पांड्या वडोदरा की टीम के कप्‍तान थे, वहीं दीपक हुड्डा टीम के उपकप्‍तान की भूमिका में थे। टूर्नामेंट से ठीक पहले दोनों क्रिकेटर्स के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ। देखते ही देखते वो विवाद काफी बड़ा हो गया था और दीपक ने क्रुणाल पर गाली देने का आरोप लगाया था। इसके बाद दीपक टूर्नामेंट छोड़कर चले गए। इस तरह अहम मुकाबले से पहले बायो-बबल छोड़ने पर बीसीए ने दीपक हुड्डा पर एक सीजन का बैन भी लगा दिया था।

इस बीच इंडियन एक्‍सप्रेस अखबार की खबर के मुताबिक वडोदरा क्रिकेट एसोसिएशन ने दीपक को टीम में वापसी के लिए बात किया है। दीपक ने अपने घरेलू क्रिकेट के पूरे कार्यकाल के दौरान बड़ौदा के लिए खेला है लेकिन बीते साल क्रुणाल से विवाद के बाद वो राजस्‍थान के लिए खेलने लगे थे।

बड़ौदा क्रिकेट संघ के एक अधिकारी ने कहा कि, “जो हुआ वो हो चुका है। हम दीपक को टीम में लाने का प्रयास कर रहे हैं कि वो वापस आकर वडोदरा के लिए खेले। उन्‍होंने क्रुणाल के साथ समझौता भी कर लिया है। अब कोई ऐसा कारण नहीं बचा है जिसकी वजह से वापस नहीं आएंगे। हम पहले ही अपनी दिलचस्‍पी दिखा चुके हैं। अब फैसला दीपक के हाथों में है। हम उम्‍मीद करते हैं कि वो मान जाएंगे।

दीपक हुड्डा ने बताया था क्रुणाल को अपना भाई

वहीं इस सीजन की शुरुआत में हुड्डा ने आईपीएल के दौरान दैनिक जागरण के साथ एक इंटरव्यू में कहा कि, “क्रुणाल पांड्या मेरे भाई की तरह है और दो भाईयों के बीच झगड़े होते रहते हैं। हम एक लक्ष्‍य के साथ खेल रहे हैं और वो है लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए आईपीएल ट्रॉफी जीतना।”