in ,

बीसीसीआई आईपीएल के दौरान टॉप-50 भारतीय खिलाड़ियो की करेगी निगरानी

चोट प्रबंधन का डाटा तैयार करेगा ताकि अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के लिए उन्हें फिट रखा जा सके

IPL Captains
IPL Captains. (Photo Source: Twitter)

आईपीएल सीजन 11 अगले महीने 7 अप्रैल से शुरू होने जा रहा है और 7 हफ्ते तक चलने वाले इस आईपीएल के दौरान बीसीसीआई टॉप 50 भारतीय खिलाड़ियों पर निगरानी रखेगी. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड इन 50 खिलाड़ियों के कार्यभार का आकलन करेगा और चोट प्रबंधन का डाटा तैयार करेगा. ताकि अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के लिए उन्हें फिट रखा जा सके. वहीं खबर है कि भारतीय टीम प्रबंधन शीर्ष अंतरराष्ट्रीय और घरेलू खिलाड़ियों का एक बड़ा पूल बनाने जा रही है. जो आने वाले समय में बेहतर प्रदर्शन और फिटनेस निगरानी प्रणाली के अंतर्गत आएंगे.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अधिकारियों ने नाम नहीं बताने की शर्त पर पीटीआई से कहा है की. हां इसकी योजना तैयार है हम 50 खिलाड़ियों का डाटाबेस तैयार करना चाहते हैं. और इन 50 खिलाड़ियों में 27 केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ी हैं. जिसमें मोहम्मद शमी भी शामिल है. और इसमें 23 अन्य खिलाड़ियों को भी शामिल किया गया है जिन्हें आईपीएल के दौरान छटनी की जाएगी. इस अधिकारी का कहना था भारत के ब्रिटेन दौरे से शुरू होकर राष्ट्रीय टीम का इंग्लैंड में 2019 विश्व कप तक कार्यक्रम बहुत व्यस्त होगा और जो खिलाड़ी प्रदर्शन कर रहे हैं उन पर निगरानी भी रखी जाएगी.

उनका कहना था इस दौरान अगर खिलाड़ी जरूरी फिटनेस स्तर हासिल नहीं कर पाते हैं तो उन्हें भारत या भारत एक ही टीमों के लिए उन्हें शामिल नहीं किया जा सकता है. फिजियो पैट्रिक फरहार्ट रास्ट्रीय क्रिकेट अकैडमी उनका आंकलन करेगी. वहीं अब इस का खाका भी तैयार हो गया है एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली राष्ट्रीय चयन समिति इन 30 खिलाड़ियों के चयन में बड़ी भूमिका अदा करने वाली है.

आने वाले 9 महीने में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बड़े दौरे शामिल है और साथ में वनडे क्रिकेट भी सबसे ज्यादा होना है जिसके लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को 8 फीट तेज गेंदबाज की जरूरत है और इन 27 खिलाड़ियों के अलावा उनकी सूची में कोई और भारतीय खिलाड़ी भी शामिल हो सकते हैं.

Akhtar Shaikh

अख्तर शेख पर लगा पूरे जीवन का बैन गलत नाम से खेलने पर

Mohammad Kaif & his son

इंस्टाग्राम पर कैफ ने डाली बेटे संग तस्वीर, मच गया बवाल