बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने का किया ऐलान - क्रिकट्रैकर हिंदी

बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने का किया ऐलान

टेस्ट और टी-20 फॉर्मेट में अपना पूरा ध्यान लगाने के लिए बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट को अलविदा कहने का फैसला लिया।

Ben Stokes. (Photo by Surjeet Yadav/Getty Images)
Ben Stokes. (Photo by Surjeet Yadav/Getty Images)

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के धाकड़ ऑलराउंडर खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने 18 जुलाई को अपने एक सोशल पोस्ट के जरिए सभी क्रिकेट फैंस को हैरानी में डालने का काम किया। जिसमें उन्होंने वनडे फॉर्मेट से संन्यास लेने का का ऐलान करते हुए एक तरह से सभी को चौंका दिया। जिसमें स्टोक्स ने साफ किया कि वह साउथ अफ्रीका के खिलाफ आगामी वनडे सीरीज में 19 जुलाई को खेले जाने वाले मुकाबले के बाद इस फॉर्मेट को अलविदा कह देंगे।

31 साल के बेन स्टोक्स ने साल 2011 अगस्त महीने में वनडे क्रिकेट में पदार्पण किया था, जिसमें अब उनके अनुसार तीनों ही फॉर्मेट में लगातार खेलना आसान काम नहीं है। जिसके बाद अब टेस्ट और टी-20 फॉर्मेट में अपना पूरा ध्यान लगाने के लिए बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट को छोड़ने का फैसला किया है। साल 2019 में इंग्लैंड की टीम को वनडे वर्ल्ड कप विजेता बनाने में बेन स्टोक्स ने काफी अहम भूमिका निभाई थी।

जिसमें फाइनल मुकाबले में उन्हें शानदार मैच विनिंग पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब भी दिया गया था। वहीं वनडे क्रिकेट में बेन स्टोक्स के रिकॉर्ड की बात की जाए तो उनका औसत 40 से थोड़ा कम है, वहीं 104 मुकाबलों में स्टोक्स ने 2919 रन बनाए हैं। जबकि गेंद से स्टोक्स के खाते में कुल 74 विकेट आए हैं।

वनडे में मैं अपना 100 प्रतिशत नहीं दे पा रहा हूं

बेन स्टोक्स ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट करते हुए अपने वनडे संन्यास लेने का ऐलान किया जिसमें उन्होंने लिखा कि, मैं 19 जुलाई को डरहम में खेले जाने वाले मुकाबले में इंग्लैंड के लिए आखिरी वनडे मुकाबला खेलूंगा। मैने यह फैसला लिया है कि मैं इस फॉर्मेट से संन्यास लेने जा रहा हूं। यह फैसला लेने मेरे लिए बिल्कुल भी आसान नहीं था। क्योंकि मुझे अपने साथी खिलाड़ियों के साथ खेलना हमेशा अच्छा लगता है।

लेकिन मुझे लगता है कि मैं इस फॉर्मेट में अपना 100 प्रतिशत देने में सक्षम नहीं हो पा रहा हूं जिसके चलते मैने यह फैसला लिया है। मेरे लिए मौजूदा समय में तीनों ही फॉर्मेट में खेलना बिल्कुल भी आसान काम नहीं होने वाला है। जिसके बाद मेरी जगह एक ऐसे खिलाड़ी को जगह मिल पाएगी जो अपना 100 प्रतिशत देने में सक्षम होगा।

यहां पर देखिए बेन स्टोक्स के उस पोस्ट को: