ब्रेंडन मैकुलम और इयोन मोर्गन जल्द ही दिख सकते हैं एक साथ एक ड्रेसिंग रूम में - क्रिकट्रैकर हिंदी

ब्रेंडन मैकुलम और इयोन मोर्गन जल्द ही दिख सकते हैं एक साथ एक ड्रेसिंग रूम में

गैरी कर्स्टन को इंग्लैंड टेस्ट क्रिकेट टीम का कोच नियुक्त किया गया है।

Brendon McCullum. (Photo by Christopher Lee-ICC/ICC via Getty Images)
Brendon McCullum. (Photo by Christopher Lee-ICC/ICC via Getty Images)

पिछले 12 महीनों में रेड-बॉल क्रिकेट में इंग्लैंड के खराब प्रदर्शन के लिए क्रिस सिल्वरवुड को बाहर करने के बाद, इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने मुख्य कोचिंग स्टाफ की नियुक्ति के लिए एक बड़ा फैसला लिया है। कथित तौर पर ईसीबी ने भारत के 2011 विश्व कप विजेता कोच गैरी कर्स्टन को अपना अगला टेस्ट कोच नियुक्त करने का फैसला किया, वहीं उन्हें सीमित ओवरों के सेटअप के लिए भी उन्होंने एक अच्छे कोच को ढूंढ लिया है।

वो खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि अपने समय के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक और न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रेंडन मैकुलम हैं। डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, मैकुलम को “उनकी विश लिस्ट में जोड़ा गया” और वो मौजूदा एकदिवसीय विश्व चैंपियन टीम का कोच बनने और नई भूमिका निभाने के लिए शीर्ष दावेदार हैं।

कोच की नियुक्ति के मैं इयोन मोर्गन से बात करूंगा- रोबर्ट की

इस बीच, इंग्लैंड के पुरुष क्रिकेट के नए प्रबंध निदेशक रॉबर्ट की ने कहा है कि वह सभी नियुक्तियों और अन्य फैसलों के लिए राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के लिमिटेड ओवर्स कप्तान इयोन मोर्गन की सहमति लेंगे। द मिरर के हवाले से की ने कहा, “इयोन वह व्यक्ति है जिससे मैं कई अलग-अलग चीजों के बारे में बात करूंगा, और सफेद गेंद वाले क्रिकेट के मामले में वह सबसे ऊपर है। वह जानता है कि वह क्या चाहता है और वह आसपास के बहुत सारे कोचों को जानता है।”

कर्स्टन की तरह, ब्रेंडन मैकुलम के पास भी कोचिंग के मामले में कई सालों का अनुभव है। वह वर्तमान में दो बार के आईपीएल विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स के मुख्य कोच हैं और इससे पहले 2020 कैरेबियन प्रीमियर लीग की विनिंग टीम ट्रिनबागो नाइट राइडर्स को कोचिंग दे चुके हैं।

इसके अलावा, क्रिकेट की फिल्ड पर उन्हें सबसे चालाक खिलाड़ियों में भी गिना जाता है। 2012 में कप्तानी की बागडोर सौंपे जाने के बाद उन्होंने न्यूजीलैंड क्रिकेट को पूरी तरह से बदल दिया था। उनकी कप्तानी में, ब्लैक कैप्स ने 2015 में अपने पहले विश्व कप फाइनल में जगह बनाई। हालांकि न्यूजीलैंड की टीम उस मुकाबले में जीत हासिल नहीं कर सकी क्योंकि वे एकतरफा मुकाबले में माइकल क्लार्क की ऑस्ट्रेलिया टीम से हार गए थे।