रवि शास्त्री को अब भारतीय क्रिकेट के नियम कानून भी 'बकवास' लगने लगे हैं - क्रिकट्रैकर हिंदी

रवि शास्त्री को अब भारतीय क्रिकेट के नियम कानून भी ‘बकवास’ लगने लगे हैं

हितों के टकराव के नाम पर बीसीसीआई को अदालतों में घसीटने वाले लोगों पर भी शास्त्री ने तंज कसा है।

Ravi Shastri
Ravi Shastri. (Photo by Satyabrata Tripathy/Hindustan Times via Getty Images)

‘हितों का टकराव’ भारतीय क्रिकेट में अक्सर एक बड़ा मुद्दा बनकर सामने आता रहा है। इस मुद्दे के कारण सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण जैसी कई प्रमुख हस्तियां सवालों के घेरे में आ गई हैं। बता दें कि, हितों का टकराव तब होता है जब किसी व्यक्ति के व्यक्तिगत हितों का कार्यस्थल पर उसके कार्यों पर संभावित प्रभाव पड़ता है। इस मामले पर बोलते हुए टीम इंडिया के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने कहा कि इस मामले से क्रिकेट जगत की हस्तियां पर गलत असर पड़ता है।

शास्त्री ने हितों के टकराव के नाम पर BCCI को अदालतों में घसीटने वाले लोगों पर जमकर बरसे। उन्होंने यह भी कहा कि वह उसी के कारण आईपीएल में कमेंट्री या मेंटर नहीं कर पा रहे हैं। शास्त्री ने पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग का भी उदाहरण दिया, जो एक कमेंटेटर के रूप में काम करते हैं और यहां तक ​​कि आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स के मुख्य कोच भी हैं।

हितों के टकराव वाले मुद्दे पर शास्त्री ने दी बड़ी प्रतिक्रिया

शास्त्री ने इंडियन एक्सप्रेस एक्सप्रेस के ई अड्डा के हवाले से कहा कि, “यह हितों के टकराव के शीर्ष पर है। मैं वास्तव में इसके लिए नहीं था। भारतीय टीम के साथ काम करने वाला आईपीएल टीम के साथ काम नहीं कर सकता। हितों का टकराव बिल्कुल बकवास है। इसे बिन में फेंक देना चाहिए। अगर मैं भारत का कोच हूं तो मुझे कमेंट्री करने की अनुमति नहीं दी जा सकती है, यह हितों का टकराव कैसा है?”

उन्होंने इस तथ्य पर भी प्रकाश डाला कि यह मुद्दे सचिन तेंदुलकर जैसी हस्तियों को भारतीय क्रिकेट में हिस्सेदारी रखने से रोक रहे हैं। शास्त्री ने कहा कि, “जब से यह लोढ़ा रिपोर्ट में सामने आया, मैं इसके खिलाफ था। आप अपने क्रिकेटरों को मौका नहीं दे रहे हैं। यह बिल्कुल बकवास है, हितों के टकराव के इस खंड को बिन में फेंक दिया जाना चाहिए।”

शास्त्री, जो 2017 से भारत के मुख्य कोच थे, उन्होंने यह भी खुलासा किया कि वह सख्त कोविड-19 प्रोटोकॉल के कारण नौकरी छोड़ना चाहते थे। अपनी भविष्य की योजनाओं के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि, “मैं अभी-अभी बबल से निकला हूं। मेरी किसी से कोई चर्चा नहीं हुई है। मैं बाद में उस पर वापस आना चाहता हूं जो मुझे पसंद है। मैं अभी जमीनी स्तर पर कोचिंग करना चाहता हूं।”