दीपक चाहर

Vijay Hazare Trophy 2023: एक दीपक ने लिए छह विकेट तो दूसरे दीपक ने 76 रन बनाकर तोड़ी सामने वाली टीम की कमर

विजय हजारे ट्रॉफी में दीपक चाहर कर रहे हैं शानदार प्रदर्शन।

Deepak Chahar (Image Credit-Instagram)
Deepak Chahar (Image Credit-Instagram)

दीपक हुड्डा और दीपक चाहर ने क्रमशः नाबाद अर्धशतक और छह विकेट के साथ अपनी व्हाइट बॉल क्रिकेट में सभी को एक बार प्रभावित किया। इस प्रदर्शन के बदौलत राजस्थान ने शनिवार को चंडीगढ़ में ग्रुप डी विजय हजारे मैच में गुजरात के खिलाफ पांच विकेट से जीत हासिल की। चाहर के 41 रन पर छह विकेट ने राजस्थान को सेक्टर-26 क्रिकेट ग्राउंड में गुजरात को 29 ओवर में 128 रन पर आउट करने में अहम भूमिका निभाई।

एक समय राजस्थान 18 रन के स्कोर पर चार विकेट गंवा चुका था। लेकिन हुडा ने 79 गेंदों (8×4, 3×6) में 76 रनों की पारी खेलकर टीम को संभाला और 28.4 ओवर में लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया। इसके अलावा कर्नाटक के लिए देवदत्त पडीक्कल ने बेहतरीन शतक लगाया। वहीं चेतेश्वर पुजारा फ्लॉप रहे और अपना खाता भी नहीं खोल पाए।

बल्ले से भी अच्छे फॉर्म में चल रहे हैं दीपक चाहर

31 वर्षीय खिलाड़ी, जिन्होंने 13 वनडे और 24 टी-20 मैच खेले हैं, वो 2023 इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान चोटिल हो गए और उन्हें छह मैचों के लिए बाहर बैठना पड़ा। इससे पहले वह पीठ की चोट से जूझ रहे थे जिसके कारण वह पूरे आईपीएल 2022 सीजन से बाहर रहे थे। आपको बता दें कि, इससे पहले वाले मैच में अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ उन्होंने बल्ले से 66 रनों की पारी खेली थी। लेकिन वहां वो गेंद के साथ कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे।

गौरतलब है कि दीपक चाहर ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए अपना आखिरी मैच 7 दिसंबर को बांग्लादेश दौरे पर खेला था। 3 मैचों की इस सीरीज में टीम इंडिया को 2-1 से हार का सामना करना पड़ा था। दीपक चाहर इस दौरे पर चोटिल हो गए थे, जिसके बाद से उन्हें दोबारा अभी तक इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने का मौका नहीं मिला है।

इसके पीछे कप्तान रोहित शर्मा की नाराजगी भी मानी जाती है। क्योंकि जब दीपक चोटिल हुए तो मैच हारने के बाद कप्तान ने उन पर इशारा करते हुए कहा था कि “हमें अनफ़िट खिलाड़ी नहीं चाहिए”।

यह भी पढ़ें: दूसरे टी-20 मुकाबले से पहले अभिषेक नायर ने यशस्वी जायसवाल को लेकर दिया बड़ा बयान

close whatsapp