इंग्लैंड के पाकिस्तान दौरा रद्द करने से आईपीएल टीमों को हुआ बड़ा फायदा - क्रिकट्रैकर हिंदी

इंग्लैंड के पाकिस्तान दौरा रद्द करने से आईपीएल टीमों को हुआ बड़ा फायदा

न्यूजीलैंड के बाद इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने रद्द किया पाकिस्तान दौरा।

England Cricket Team. (Photo by Owen Humphreys/PA Images via Getty Images)
(Photo by Owen Humphreys/PA Images via Getty Images)

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड द्वारा पाकिस्तान दौरा रद्द करने के कुछ ही दिनों बाद इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने भी आगामी पाकिस्तान का अपना दौरा रद्द कर दिया। इंग्लैंड की पुरुष और महिला टीमें अक्टूबर में होने वाले वर्ल्ड कप से ठीक पहले दो टी-20 मैचों की सीरीज खेलने के लिए जाने पाकिस्तान दौरे पर जाने वाली थीं, लेकिन ईसीबी ने अब फैसला किया है कि अब वो अपनी दोनों टीमों को पाकिस्तान नहीं भेजेगी।

ईसीबी के इस फैसले ने कम से कम ये साफ कर दिया है कि इंग्लैंड के सभी खिलाड़ी अब IPL के प्लेऑफ मुकाबलों के लिए अपनी टीमों के लिए उपलब्ध रहेंगे। इससे पहले खबर आई थी कि पाकिस्तान दौरे की वजह से कुछ प्रमुख इंग्लिश खिलाड़ी इस सीजन के प्लेऑफ मैचों के लिए उपलब्ध नहीं रहेंगे जिससे कुछ टीमों की चिंता बढ़ गई थी।

ईसीबी के इस फैसले से सबसे ज्यादा फायदा CSK को होगा क्योंकि उनकी टीम में सैम करन और मोईन अली जैसे बड़े खिलाड़ी प्लेऑफ के लिए उपलब्ध रहेंगे, वहीं KKR के कप्तान इयोन मॉर्गन भी इस पूरे सीजन के लिए अपनी टीम के साथ रहेंगे। इसके अलावा DC के लिए टॉम करन और सैम बिलिंग्स, PBKS के लिए आदिल रशीद और क्रिस जॉर्डन तथा SRH के लिए जेसन रॉय पूरे टूर्नामेंट के दौरान मौजूद रहेंगे।

पाकिस्तान को मिला डबल झटका

न्यूजीलैंड और इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के इस फैसले से पाकिस्तान को एक हफ्ते के अंदर दोहरा झटका लगा है। दोनों देशों के फैसले से पाकिस्तान क्रिकेट के समर्थक और उनके कुछ आला अधिकारी काफी गुस्से में नजर आ रहे हैं। ईसीबी के फैसले के बाद PCB के चेयरमैन रमीज राजा ने तुरंत एक ट्वीट किया जिसमें उनकी नाराजगी साफ झलक दिख रही थी।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि “इंग्‍लैंड से निराश हूं, वे जरूरी समय में अपने वादे से मुकर गए और क्रिकेट बिरादरी के एक सदस्‍य को निराश किया। हम निश्चित तौर पर इससे भी बाहर निकल जाएंगे। पाकिस्‍तान क्रिकेट के लिए यह जगाने वाला कॉल है कि वह दुनिया की सर्वश्रेष्‍ठ टीम बनें, जिससे बाकी की टीमें बिना कोई बहाना बनाए उसके साथ खेलने के लिए कतार में लगे।”