इंग्लैंड क्रिकेट टीम के अगले मुख्य बनने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं, पूर्व भारतीय टीम के मुख्य कोच - क्रिकट्रैकर हिंदी

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के अगले मुख्य बनने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं, पूर्व भारतीय टीम के मुख्य कोच

साल 2013 के बाद से गैरी कर्स्टन ने किसी भी अंतरराष्ट्रीय टीम के कोच के तौर पर जिम्मेदारी नहीं निभाई है।

Gary Kirsten. (Photo by Harry Trump/Getty Images for The Hundred)
Gary Kirsten. (Photo by Harry Trump/Getty Images for The Hundred)

इंग्लैंड टेस्ट क्रिकेट टीम के लिए साल 2021 किसी बुरे सपने से कम साबित नहीं हुआ जहां पर उन्हें कुल 9 टेस्ट मैचों में हार का सामना करना पड़ा। जिसमें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज 2021-22 के शुरुआती 3 टेस्ट मैच भी शामिल हैं, जहां पर उन्हें लगातार एकतरफा हार का सामना करना पड़ा। जिसके चलते अब टीम के मुख्य कोच क्रिस सिलवरवुड की जगह को लेकर सवाल खड़े किए जा रहे हैं और उनकी छुट्टी को लेकर भी बातें शुरू हो गई हैं।

जिसको लेकर अभी तक कई नामों पर चर्चा देखने को मिली है और इसी में एक नाम साउथ अफ्रीका टीम के पूर्व दिग्गज ओपनिंग बल्लेबाज और भारतीय टीम को अपने कोचिंग कार्यकाल में विश्वविजेता बनाने वाले गैरी कर्स्टन का नाम भी शामिल हो गया है। उन्होंने भारतीय टीम के पूर्व कप्तान धोनी के साथ मिलकर टीम इंडिया के सफल मुख्य कोच के तौर पर अपना कार्यकाल पूरा किया।

वहीं इसके बाद गैरी कर्स्टन ने साल 2011 से 2013 तक साउथ अफ्रीकी टीम के मुख्य कोच के तौर पर जिम्मेदारी निभाई थी। जिसके बाद वह किसी राष्ट्रीय टीम के लिए इस जिम्मेदारी को भले ही निभाते हुए नहीं दिखाई दिए। लेकिन इस दौरान वह दुनियाभर में होने वाली टी-20 लीग में टीमों के मुख्य कोच के तौर पर जरूर दिखाई दिए। इसमें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, होबार्ट हरिकेंस और डरबन हीट के लिए मुख्य कोच की जिम्मेदारी निभाते हुए दिखाई दिए हैं।

इससे पहले भी गैरी कर्स्टन ने इंग्लैंड टीम के मुख्य कोच बनने की अपनी दिलचस्पी को उस समय जाहिर किया था, जब उन्होंने इस पद के लिए आवेदन किया था, लेकिन उस दौरान वह असफल रहे थे। साल 2019 में ट्रेवर बेलिसिस की जगह को लेने के लिए वह प्रमुख दावेदार बताए जा रहे थे, लेकिन अंत में क्रिस सिलवरवुड को चुना गया।

मैं सभी फॉर्मेट में इस जिम्मेदारी के लिए तैयार नहीं हो पाउंगा

आई न्यूजपेपर को दिए अपने बयान में गैरी कर्स्टन ने कहा कि, मैं हमेशा इस जिम्मेदारी को लेने के लिए तैयार हूं क्योंकि इंग्लैंड टीम को कोच करना मेरे लिए सम्मान की बात होगी। मैं इससे पहले यह जिम्मेदारी 2 बार निभा चुका हूं और सिर्फ इतना कहना चाहता हूं कि सभी फॉर्मेट में मैं निभाने के लिए नहीं तैयार हो पाउंगा। जब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बोर्ड इस बात को अच्छी तरह से समझ जायेंगे कि उन्हें अलग-अलग फॉर्मेट के लिए अलग-अलग कोच नियुक्त किए जाने चाहिए उसी समय मैं इसको लेकर कुछ अंतिम फैसला लूंगा।

कर्स्टन ने अपने बयान में आगे कहा कि, किसी टेस्ट या वनडे टीम के साथ काम करना हमेशा आपके लिए एक सम्मान की बात होती है। इस समय इंग्लैंड कि वनडे टीम पूर्व वर्ल्ड क्रिकेट की बेहतरीन टीमों में से एक है। लेकिन आपको इसमें निरंतरता बनाए रखनी होगी जिसको लेकर सही खिलाड़ियों का चुनाव करना होगा। हां आपकी टेस्ट टीम जरूर संघर्ष करते हुए दिखाई दी है, लेकिन इसकी जिम्मेदारी संभालना इस समय सबसे शानदार फैसला किसी के लिए भी हो सकता है।