गौतम गंभीर को भरोसा यह भारतीय महिला खिलाड़ी बनेगी भविष्य में कप्तान - क्रिकट्रैकर हिंदी

गौतम गंभीर को भरोसा यह भारतीय महिला खिलाड़ी बनेगी भविष्य में कप्तान

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिंक बॉल टेस्ट मैच में मंधाना ने जड़ा था शानदार शतक।

Gautam Gambhir and Smriti Mandhana. (Photo Source: Getty Images)

भारतीय महिला टीम की सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक स्मृति मंधना ने पिछले कुछ समय में अपना बड़ा नाम बनाया है। मंधाना अपनी तेज तर्रार बल्लेबाजी के लिए जानी जाती हैं और बड़ी-बड़ी पारी खेलने की वजह से विरोधी टीमों के लिए वो और भी घातक साबित होती हैं।

लिमटेड ओवर वाले क्रिकेट में अच्छा करने के बाद स्मृति ने हाल ही में टेस्ट क्रिकेट में भी शानदार प्रदर्शन किया है। ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच खेले गए एक मात्र पिंक बॉल टेस्ट मैच में स्मृति मंधना के बल्ले से शानदार शतक निकला था और उन्होंने 127 रन बनाए थे।

ये टेस्ट मैच हालांकि ड्रॉ हो गया लेकिन अपनी शतकीय पारी की बदौलत मंधना ने जमकर सुर्खियां बटोरी और इसी क्रम में पूर्व भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर भी उनकी पारी की तारीफ करते हुए काफी कुछ कहा।

स्मृति मंधाना को लेकर गौतम गंभीर ने क्या कहा ?

टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए कॉलम लिखते हुए गंभीर ने कहा कि “सिर्फ इसलिए कि वो मेरी तरह बाएं हाथ की बल्लेबाज हैं मैं इसलिए उनकी तारीफ नहीं कर रहा हूं। मुझे सच में लगता है कि वो काफी लंबे समय तक टीम इंडिया की कमान संभाल सकती हैं।” स्मृति की शानदार शतकीय पारी को देख गंभीर काफी प्रभावित हुए थे।

पूर्व बल्लेबाज ने आगे कहा कि “मंधाना उस तरह की बल्लेबाज हैं जो पॉवर से ज्यादा टाइमिंग पर भरोसा करती है। अपनी पारी को वह जिस तरह आगे बढ़ती है और गैप में शॉट्स खेलती हैं वो काफी शानदार है।

वहीं गंभीर सबसे ज्यादा मंधाना की इस बात से भी काफी प्रभावित हुए कि अपनी जीवन में इतना आगे बढ़ने के बावजूद अभी भी स्मृति अपने बचपन के कोच के साथ जुड़ी हुई हैं। उनके अनुसार जब हम अपने जीवन में आगे बढ़ते हैं तो उन लोगों को भूल जाते हैं जिन्होंने हमें यहां तक पहुंचाया है।

उन्होंने कहा कि “मैंने जब सुना कि वो अभी भी अपने बचपन के कोच अनंत तांबवेकर के साथ अभी भी जुड़ी हुई हैं ये सुनकर मुझे अच्छा लगा। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले स्मृति के कोच ने उनसे बड़े शतक की मांग की थी।