जारी है जडेजा का फ्लॉप शो, लेकिन फिर भी स्टीफन फ्लेमिंग को नहीं है उनके फॉर्म की चिंता - क्रिकट्रैकर हिंदी

जारी है जडेजा का फ्लॉप शो, लेकिन फिर भी स्टीफन फ्लेमिंग को नहीं है उनके फॉर्म की चिंता

आईपीएल 2022 में अब तक बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग हर विभाग में रहे हैं फेल।

Stephen Fleming & Ravindra Jadeja (Photo Source: Twitter)
Stephen Fleming & Ravindra Jadeja (Photo Source: Twitter)

चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग मौजूदा आईपीएल 2022 संस्करण में रवींद्र जडेजा के फॉर्म को लेकर ज्यादा चिंतित नहीं हैं। पिछले साल शानदार प्रदर्शन करने के बाद जडेजा सीजन कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। बाएं हाथ के बल्लेबाज को हाल ही में उनकी कप्तानी के कर्तव्यों से मुक्त कर दिया गया था और इसके बाद से एक बार फिर एमएस धोनी ने फिर से पदभार संभाला। हालांकि उनका यह फैसला अब तक कारगर साबित नहीं हुआ है।

आईपीएल 2022 में अब तक 10 मैचों में जडेजा सिर्फ 116 रन ही बना पाए हैं और जडेजा के खराब प्रदर्शन का असर सीएसके के नतीजों पर भी पड़ा है। आरसीबी के खिलाफ एक महत्वपूर्ण लक्ष्य का पीछा करते हुए, जडेजा नंबर छह पर बल्लेबाजी करने आए और वह पांच गेंदों में से सिर्फ तीन रन बना सके। ऑलराउंडर पिछले दो वर्षों में सीएसके सेट-अप और भारतीय टीम के लिए एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी बन गया हैं।

मैं जडेजा की फॉर्म को लेकर थोड़ा भी चिंतित नहीं हूं- स्टीफन फ्लेमिंग

फ्लेमिंग ने कहा कि वह जडेजा के फॉर्म के बारे में ज्यादा चिंतित नहीं हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि टी-20 क्रिकेट कई बार लय हासिल करना मुश्किल हो सकता है। उन्होंने नंबर 5 या 6 पर बल्लेबाजी करने की कठिनाइयों के बारे में भी बात की, जहां सेट होने के लिए बहुत कम समय मिलता है और वह अपने अच्छे लय को वापस लाने के लिए जडेजा को अपनी सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी स्थिति में भेजने के लिए तैयार थे।

आरसीबी के खिलाफ मैच के बाद फ्लेमिंग ने कहा कि, “मैं चिंतित नहीं हूं, टी20 मैच मुश्किल हो सकते हैं, जब आप नंबर 5 या नंबर 6 पर बल्लेबाजी कर रहे होते हैं तो आपको लय हासिल करने के लिए ज्यादा समय नहीं मिलता है। हम अब इस पर गौर करेंगे और पता लगाएंगे कि जडेजा के लिए सबसे अच्छा क्रम क्या होगा। लेकिन मुझे रविंद्र जडेजा की फॉर्म की कोई चिंता नहीं है।”

आरसीबी से 13 रन की हार के साथ चेन्नई सुपर किंग्स अब इस सीजन में प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाएगी क्योंकि उनकी टीम ने अब तक अपने दस मैचों में से सिर्फ तीन में जीत हासिल की है।