कभी थे पार्ट टाइम सेल्समैन, आज हैं पाकिस्तान टीम के मुख्य तेज गेंदबाज नाम है..... - क्रिकट्रैकर हिंदी

कभी थे पार्ट टाइम सेल्समैन, आज हैं पाकिस्तान टीम के मुख्य तेज गेंदबाज नाम है…..

अगर पाकिस्तान को यह फाइनल मुकाबला जीतना है तो हारिस राउफ को बेहतरीन गेंदबाजी करनी होगी और इंग्लैंड के बल्लेबाजों के ऊपर लगातार दबाव डालना पड़ेगा।

Haris Rauf (Image Source: Twitter)
Haris Rauf (Image Source: Twitter)

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हारिस राउफ ने अपनी टीम की ओर से कई महत्वपूर्ण मुकाबलों में शानदार प्रदर्शन किया है। उनकी घातक गेंदबाजी के सामने कई बल्लेबाजों ने घुटने टेक दिया है। ICC टी-20 वर्ल्ड कप का फाइनल मुकाबला आज यानी 13 नवंबर को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (MCG) में पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच में खेला जाएगा।

अगर पाकिस्तान को यह फाइनल मुकाबला जीतना है तो हारिस राउफ को बेहतरीन गेंदबाजी करनी होगी और इंग्लैंड के बल्लेबाजों के ऊपर लगातार दबाव डालना पड़ेगा। हालांकि इस फाइनल मैच से पहले पाकिस्तानी गेंदबाज ने अपने क्रिकेटिंग करियर से पहले के समय को याद किया और यहां तक के सफर की बेहतरीन यादें साझा की।

बता दें, हारिस राउफ ने बिग बैश लीग (BBL) के 2019/20 सत्र में मेलबर्न स्टार्स (MS) की ओर से बेहतरीन गेंदबाजी की थी। उनकी इस शानदार गेंदबाजी की बदौलत राउफ को पाकिस्तान टीम में शामिल किया गया। तेज गेंदबाज ने इस बात का खुलासा किया कि उनके क्रिकेटिंग सफर की शुरुआत टेप गेंद क्रिकेट से हुई थी।

मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं प्रोफेशनल क्रिकेटर बन पाऊंगा: हारिस राउफ

पाकिस्तान क्रिकेट ने अपने ट्विटर हैंडल से एक वीडियो साझा की है जिसमें हारिस राउफ कह रहे हैं कि, ‘पाकिस्तान के काफी क्रिकेटर टेप गेंद क्रिकेट से शुरुआत करते हैं और मेरी शुरुआत भी वैसे ही हुई। मैं सड़क पर खेलता था और मैंने कभी नहीं सोचा था कि प्रोफेशनल क्रिकेटर बन पाऊंगा। मैं पढ़ाई करता था और सेल्समैन के रूप में पार्ट टाइम काम भी करता था।’

हारिस राउफ ने आगे कहा कि, ‘ जब मैंने अपनी यूनिवर्सिटी में प्रवेश लिया तब मैं अलग-अलग शहरों में प्रोफेशनल क्रिकेट खेलने लगा और अपनी फीस के लिए पैसे कमाने लगा। 2017 में मैं लाहौर कलंदर्स के ट्रायल के लिए गया और वहां मेरा चयन हो गया।’

बता दें, हारिस राउफ ने अभी तक ICC टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में छह मुकाबलों में 7.04 के इकोनामी से 6 विकेट हासिल किए हैं। अंतिम ओवरों में राउफ को खेलना बहुत मुश्किल है। उनकी यॉर्कर का जवाब दुनिया के किसी भी बल्लेबाज के पास नहीं है।