विराट के बाद अब इंग्लैंड के कप्तान जो रूट से भी छीनी जा सकती है कप्तानी - क्रिकट्रैकर हिंदी

विराट के बाद अब इंग्लैंड के कप्तान जो रूट से भी छीनी जा सकती है कप्तानी

मौजूदा एशेज सीरीज में इंग्लैंड की टीम 0-2 से पीछे चल रही है।

Joe Root
Joe Root. (Photo by Zac Goodwin/PA Images via Getty Images)

पूर्व बल्लेबाज माइकल एथर्टन ने कहा कि अगर टीम मौजूदा एशेज में इंग्लैंड की टीम लड़खड़ाती रही तो जो रूट के लिए टेस्ट कप्तान के रूप में बने रहना मुश्किल हो सकता है। ब्रिस्बेन और एडिलेड टेस्ट में भारी हार का सामना करने के बाद, इंग्लैंड को टीम पांच मैचों की सीरीज में पहले ही 0-2 से पीछे चल रही है। सीरीज को बचाने के लिए मेहमान टीम को को शेष तीन मैचों में से कम से कम दो जीतने की जरूरत है।

एडिलेड ओवल में डे नाइट टेस्ट में 275 रन की हार के बाद, रूट टेस्ट क्रिकेट में इंग्लैंड के लिए 23 हार के साथ सबसे अधिक हारने वाले कप्तान बने। उन्होंने एलिस्टेयर कुक की 59 मैचों में 22 हार के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। एथर्टन का मानना है कि इंग्लैंड को किसी ऐसे व्यक्ति को खोजने की कोशिश करनी चाहिए, जो रूट से टेस्ट क्रिकेट में कप्तान के रूप में पदभार ग्रहण कर सके।

अगर एशेज दौरा इसी तरह से खराब रहा तो रूट की कप्तानी खतरे में पड़ सकती है- माइकल एथर्टन

The Times से बातचीत के दौरान माइकल एथर्टन ने कहा कि, “अगर दौरा इसी तरह खराब चलता रहा, तो यह देखना मुश्किल है कि रूट कप्तान के रूप में बने रहेंगे या नहीं। एशेज दौरे अक्सर इंग्लैंड के कप्तानों के लिए अहम होते हैं और रूट शुरुआत की तुलना में अपने चक्र के अंत के करीब हैं। विकल्प बताने की कोई जल्दी नहीं है, लेकिन यह धारणा है कि कोई नहीं है जिसे कप्तानी संभालनी है तो कप्तानी बचाने के लिए ये सबसे खराब तर्क है।”

पूर्व बल्लेबाज ने कोच क्रिस सिल्वरवुड पर भी तीखा हमला बोला और कहा कि वे कठिन समय में सही फैसले नहीं ले पा रहे हैं। एथर्टन ने आगे कहा कि, “मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता के रूप में उन्हें जो रूट के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलना होगा। अब तक खराब फैसलों की झड़ी लग गई है।”

वहीं टीम चयन को लेकर एथर्टन ने कहा कि, “टीम और प्लेइंग इलेवन का चयन, मुख्य रूप से चर्चा का विषय है। पिछले 12 महीनों से कई चयन संदिग्ध हैं; मुख्य कोच के साथ चयन की जिम्मेदारी लेना हमेशा खराब रहा है।”