दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का नया म्यूटेंट सामने आने के बाद भी भारतीय-ए टीम का दौरा रहेगा जारी - क्रिकट्रैकर हिंदी

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का नया म्यूटेंट सामने आने के बाद भी भारतीय-ए टीम का दौरा रहेगा जारी

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने अपने बयान में कहा है कि वह हालात पर पूरी तरह से नजर बनाने के साथ BCCI के संपर्क में भी है।

Priyank Panchal. (Photo Source: Twitter)
Priyank Panchal. (Photo Source: Twitter)

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना संक्रमण का नया म्यूटेंट सामने आने के बाद वहां पर मामलों को तेजी से बढ़ते हुए देखा जा रहा है। इस नए म्यूटेंट में वैक्सीन का असर नहीं होने से सभी के लिए चिंता की बात ज्यादा बढ़ चुकी है। वहीं इस समय दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गई भारतीय-ए टीम का दौरा अभी फिलहार जारी रखने का फैसला लिया गया है।

दअसल इस नए म्यूटेंट के चलते अफ्रीका दौरे पर गई नीदरलैंड्स की टीम जिसे 3 मैचों की वनडे सीरीज खेलनी थी, उसने पहले मैच के बाद वापस लौटने का फैसला किया है। वहीं भारतीय-ए टीम इस समय ब्लोमफोंटेन में जहां उन्हें 4 दिवसीय 3 मैचों की सीरीज खेलनी है।

भारतीय-ए टीम ने क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के अधिकारियोंं से इस मामले में मुलाकात भी की है। वहीं दिसंबर में मुख्य भारतीय टीम को दक्षिण अफ्रीका का दौरा करना है, जिसमें 3 टेस्ट, 3 वनडे और 3 टी-20 मैचों की सीरीज खेली जानी है। इस दौरे को लेकर क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका की तरफ से आए बयान में कहा गया है कि वह पूरे हालात पर नजर बनाने के साथ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के भी संपर्क में है।

रद्द हो सकता है भारत का दक्षिण अफ्रीका दौरा

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने अपनी तरफ जारी बयान में कहा कि, वह लगातार इस पूरे मामले में BCCI के संपर्क में है। अभी फिलहाल इस दौरे को लेकर किसी तरह की चिंता करने की कोई बात नहीं है। हम लगातार संक्रमण फैलने की गति को देखने के साथ BCCI को इसके बारे में जानकारी भी उपलब्ध करा रहे हैं।

हमारी कोशिश रहती है कि दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर आने वाली किसी भी टीम को हम सुरक्षित माहौल दे ताकि खिलाड़ियों को किसी तरह की चिंता ना करनी पड़ी। यह बयान क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के प्रमुख लॉसन नाईडू ने दिया है, जो क्रिकबज्ज के अनुसार है।

वहीं भारतीय-ए टीम मैनेजमैंट की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार कोरोना संक्रमण का नया वेरिएंट जिसे B.1.1.529 के नाम से पहचाना जा रहा है। वह अफ्रीका के नॉर्दन क्षेत्र में मिला है, जबकि इस समय टीम दक्षिण में है।