टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में खराब प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम को अपने खेल के बारे में फिर से विचार करना होगा - वसीम अकरम - क्रिकट्रैकर हिंदी

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में खराब प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम को अपने खेल के बारे में फिर से विचार करना होगा – वसीम अकरम

वसीम अकरम के अनुसार भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों को दुनियाभर में होने वाली अन्य टी-20 लीग्स में भी खेलना चाहिए।

Indian cricket team. (Photo by AAMIR QURESHI/AFP via Getty Images)
Indian cricket team. (Photo by AAMIR QURESHI/AFP via Getty Images)

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए यदि साल 2021 देखा जाए तो उन्हें 2 आईसीसी टूर्नामेंट जीतने का प्रबल दावेदार इस साल माना जा रहा था। लेकिन टीम ने सभी को निराश करते हुए एक को भी अपने नाम नहीं किया। जिसमें पहले भारतीय टीम को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड से हार का सामना करना पड़ा। वहीं इसके बाद यूएई में हुए टी-20 वर्ल्ड कप में टीम का सफर सुपर-12 मुकाबलों से आगे भी नहीं बढ़ सका, जिसे देखकर ना सिर्फ फैंस बल्कि कई क्रिकेट विशेषज्ञ भी हैरानी में पड़ गए थे।

अब भारतीय टीम के इसी प्रदर्शन को लेकर पूर्व दिग्गज तेज गेंदबाज और पाकिस्तानी कप्तान वसीम अकरम ने अपने एक बयान में कहा कि भारत को अपने खिलाड़ियों को दूसरी टी-20 लीग्स में खेलने की मंजूरी देनी चाहिए। जिससे उन्हें अलग-अलग हालात में खेलने का अनुभव मिल सके।

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में भारतीय टीम को अपने पहले ही मुकाबले में पाकिस्तान के खिलाफ एकतरफा 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। जिसमें पाक की तरफ से तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी ने भारतीय टीम के ऊपरी क्रम को बिखेरकर रख दिया था। जिसमें अकरम के अनुसार भारतीय टीम को पहले मैच में मिली हार के बाद वह इससे पूरी तरह टूर्नामेंट में उबर नहीं सके थे।

पाकिस्तान के खिलाफ हार का सामना करने के बाद भारतीय टीम को अपने अगले ही मुकाबले में न्यूजीलैंड के खिलाफ भी शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। हालांकि इसके बाद अगले 3 मैचों में टीम इंडिया ने अफगानिस्तान, नामीबिया और स्कॉटलैंड के खिलाफ एकतरफा जीत जरूर दर्ज की लेकिन उससे वह सेमी-फाइनल में अपनी जगह नहीं बना सकी।

इसके साथ ही पिछले 8 सालों में यह पहली बार हुआ था कि भारतीय टीम किसी आईसीसी इवेंट के नॉकआउट मुकाबले में अपनी जगह बनाने में भी कामयाब नहीं हो सकी। अकरम ने इन सब चीजों पर बात करते हुए कहा कि सिर्फ IPL खेलने से भारतीय खिलाड़ियों को वह अनुभव हासिल नहीं हो सकेगा जो उन्हें अलग-अलग लीग में खेलने से हासिल होगा।

कम से कम 1 या 2 वर्ल्ड की दूसरी लीग में खेलने की मंजूरी देनी चाहिए

वसीम अकरम का एक वीडियो तो स्पोर्ट 360 में अपलोड किया गया है, उसमें उन्होंने भारतीय टीम को लेकर अपने बयान में कहा कि, जब आप अलग-अलग लीग में खेलते हैं, जिसमें एक या 2 भी तब आपको विभिन्न तरह के गेंदबाजों का सामना करने का मौका मिलता है। जिसमें अलग हालात और अलग टीम होती हैं और यह अनुभव एक खिलाड़ी के तौर पर काफी लाभदायक साबित होता है।

जिसके बाद मुझे ऐसा लगता है कि भारत को फिर से इस पर विचार करना चाहिए क्योंकि IPL बिना किसी संदेह के नंबर-1 टी-20 लीग है लेकिन उन्हें अपने खिलाड़ियों को कम से कम 1 या 2 अन्य वर्ल्ड की लीग में खेलने की मंजूरी देनी चाहिए। क्योंकि टी-20 वर्ल्ड कप में वह एक प्रबल दावेदार माने जा रहे थे, लेकिन शाहीन अफरीदी के एक ओवर ने सबकुछ बदलकर रख दिया और फिर वह इससे उबर ही नहीं सके।