in

अश्विन और जड़ेजा अभी भी हमारी रणनीति का हिस्सा – भरत अरुण

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने चहल और कुलदीप के लगातार अच्छे प्रदर्शन के बाद अश्विन और जड़ेजा के वनडे टीम में वापसी के सवाल पर

India's Ravichandran Ashwin
India’s Ravichandran Ashwin celebrates with teammates. (Photo by JEWEL SAMAD/AFP/Getty Images)

दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच में खेली जा रही 6 मैच की वनडे सीरीज का चौथा मैच 10 फरवरी को जोहान्सबर्ग के मैदान में खेला जाएगा जिसके लिए भारतीय टीम एक बार फिर से तैयार है और यही पर वो सीरीज का भी अंत करना चाहेगी. अभी तक इस सीरीज में टींम के लिए दो स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने जिस तरह से गेंदबाजी की उसके बाद हर जगह इस बात की चर्च होने लगी कि क्या अब अश्विन और जड़ेजा के लिए टीम में कोई जगह नहीं बची है जिसपर भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने चौथे वनडे मैच से पहले हुए प्रेस कांफ्रेंस में इसका जवाब दिया.

जड़ेजा और अश्विन भी हमारी रणनीति का हिस्सा

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने चहल और कुलदीप के लगातार अच्छे प्रदर्शन के बाद अश्विन और जड़ेजा के वनडे टीम में वापसी के सवाल पर कहा कि ये दोनों गेंदबाज अभी भी हमारी रणनीति का हिस्सा है और हम समय समय पर सभी गेंदबाजों को रोटेट करते रहेंगे. भारत अरुण ने ये बात चौथे वनडे मैच से पहले हुयीं प्रेस कांफ्रेंस में इस बात को कहा.

हम किसी पर अधिक दबाव नहीं डालना चाहते

भरत अरुण ने अपनी बातचीत के दौरान कहा कि “श्रीलंका सीरीज के दौरान हमने हर गेंदबाज का प्रयोग करने के प्लान बनाया था क्योंकी अप इस बात को समझ सकते है कि इस समय जीतना क्रिकेट खेला जा रहा है उससे एक गेंदबाज पर काफी दबाव आ जाता है और इसी कारण हमने अपने गेंदबाजों को रोटेट करने का निर्णय लिया जिससे हमारे गेंदबाज फ्रेश रहे और इन दोनों गेंदबाजों ने काफी अच्छी गेंदबाजी की है जैसा हमने पहले कहा था कि विदेशी दौरों पर रिस्ट स्पिनर अधिक सफल होंगे फिंगर स्पिनर से और उन्होंने ऐसा ही किया.”

हम सभी को देखना चाहते है

अपनी बात को आगे बढ़ते हुए भरत अरुण ने कहा कि हम वर्ल्डकप से पहले गेंदबाजी का एक पूल तैयार करना चाहते है क्योंकी हम हर प्रतिभा का उपयोग करना चाहते है जिसके बाद हम अपनी वर्ल्डकप के लिए टीम का सही चयन कर सकेंगे इसलिए अभी कोई भी गेंदबाज हमारी रणनीति के बाहर नहीं हुआ है फिर चाहे वो अश्विन और जड़ेजा ही क्यों ना हो.

Ravindra Jadeja

बीसीसीआई ने बताया मैच के बाद क्या होता बॉल का

Anukul Roy

ओवरऐज होने के बावजूद वर्ल्डकप खेल गया ये खिलाड़ी, आईसीसी से हुई शिकायत