in , , , ,

आईपीएल 2018: राजस्थान रॉयल्स 32 वें मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है

दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ राजस्थान का मुकाबला किसी भी अन्य मैच के रूप में महत्वपूर्ण है

Rajasthan Royals
Rajasthan Royals team celebrates a wicket. (Photo Source: Twitter)
राजस्थान रॉयल्स के लिए दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ यह एक महत्वपूर्ण मुकाबला है और उन्हें अपनी उम्मीदों को जिंदा रखने के लिए जीत की जरूरत है जहां राजस्थान रॉयल्स ने इस इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के सीजन में काफी अच्छे खेल का प्रदर्शन भी किया है लेकिन कुछ मैचों में विफल रहे इसके अलावा उन्होंने कुछ करीबी के परिस्थितियों वाले मैचों को भी खोया है रॉयल्स के बल्लेबाज सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में 150 से ज्यादा लक्ष्य का पीछा करने में नाकाम रहे हैं भले ही उनके हाथ विकेट आए लेकिन उनके गेंदबाजों ने एक ओर सभी को प्रभावित किया है जो उनके लिए एक बड़ा सकारात्मक पक्ष है.
दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ उनका मुकाबला उनके लिए किसी भी अन्य मैच के रूप में महत्वपूर्ण है उन्हें डीडी को उन पर कड़ी मेहनत करने की उम्मीद करनी चाहिए क्योंकि डीडी के पास कुछ भी खोना के लिए नहीं है और हर स्थिति में उनके लिए वर्चुअल नॉकआउट है डीडी अपने इस मैच में बहुत अधिक स्वतंत्रता के साथ खेलेंगे और अगर उन्हें जीतना है तो राजस्थान को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा मध्य क्रम और विदेशी खिलाड़ियों ने उम्मीदों पर मुकाबले में पहले भी कुछ ज्यादा नहीं दे पाए है जिसके बाद हम टीम में एक या दो बदलाव देख सकते हैं इसके साथ ही राजस्थान रॉयल्स की संभावित प्लेइंग इलेवन इस प्रकार की हो सकती है.

सलामी बल्लेबाज: (अजिंक्य रहाणे और राहुल त्रिपाठी)

अजिंक्य रहाणे को टी 20 मैच में अपने आक्रामकता और रक्षात्मक खेल को और अधिक प्रभावी बनाने की कोशिश करनी होगी वह इस सीजन में अब तक बहुत ही आक्रामक या फिर बहुत रक्षात्मक रहे है इसके अलावा वह एसआरएच के खिलाफ अपनी टीम को सफलता दिलाने में असफल रहे हालांकि वह अंत तक खेल में बने रहे यह निश्चित रूप से उन्हें निराश करेगा और हम उम्मीद कर सकते हैं कि वह डीडी के खिलाफ खेल में ज्यादा मजबूत और सकारात्मक से वापस आएंगे.
इस सीजन में राहुल त्रिपाठी की बल्लेबाजी की स्थिति कुछ खास नही दिखी हालांकि वह वापसी कीया है त्रिपाठी ने पिछले साल आरपीएस के साथ कुछ बड़ी सफलता का स्वाद लिया था और इस साल इसी तरह की सफलता को दोहराने की उम्मीद है लेकिन वह इस मौसम में अब तक असफल रहे है त्रिपाठी और आरआर के लिए सकारात्मक होना और मध्य क्रम पर बोझ को कम करने के लिए टॉप आर्डर पर बड़े रन को करने की जिम्मेवारी होगी.

मध्य क्रम बल्लेबाज: (संजू सैमसन, बेन स्टोक्स, हेनरिक क्लासेन)

यह मध्य क्रम है जो वास्तव में संजू सैमसन को छोड़कर रॉयल्स की अपेक्षाओं पर अब तक कोई खिलाड़ी नहीं रहा है बल्ले के साथ इस सीजन में संजू शानदार रहे हैं उन्होंने आरसीबी के खिलाफ एक महत्वपूर्ण मुकाबला जीतने में उनकी टीम की मदद की इस सत्र में खेले गए सात मैचों में संजू ने 46.5 के औसत से 279 रन बनाए हैं फिर भी वह डीडी के खिलाफ इस मैच में आरआर के लिए अपनी खेल में और मजबूती देंगे.
मध्य क्रम में इस मैच के लिए एक मजबूर परिवर्तन देखने की भी संभावना है जोस बटलर जिन्होंने स्पिन का सामना करने के लिए काफी संघर्ष किया हैं उनको बाहर बैठने की संभावना है इनके स्थान पर हेनरिक क्लासन आ सकते हैं क्योंकि वह स्पिन का एक बेहतर खिलाड़ी है हालांकि इनके खेल पर पीछे नजर डाले तो पता चलेगा कि यह उपमहाद्वीप की स्थितियों में बहुत प्रभावी हो सकते है बेन स्टोक्स का फॉर्म आरआर के लिए एक बड़ी चिंता है वह इस सीजन में बल्ले और गेंद दोनों के साथ असफल रहे और टूर्नामेंट में उनका फॉर्म आगे वापस आये यह टीम के लिए बहुत महत्वपूर्ण है.

ऑल राउंडर्स (महिपाल लोमर, कृष्णप्पा गोथम और जोफ्रा आर्चर)

महिपाल लोमर ने एसआरएच के खिलाफ खेल में रॉयल्स के लिए शुरुआत की वह काफी हद तक गेंदबाजी नहीं कर पाए और बल्ले से भी अच्छा स्कोर करने में नाकाम रहे हालांकि इस नौजवान को इस मैच में एक बार फिर प्लेइंग इलेवन में होने की संभावना है जहां गोथम  की बात किया जाए तो वह मध्यक्रम पर अच्छी बल्लेबाजी कर सकते हैं और गोथम ने गेंद के साथ भी अच्छी तरह से प्रदर्शन किया है और एक मैच में बल्ले के साथ भी असाधारण खेल का प्रदर्शन किया था.
जोफ्रा आर्चर सूची में तीसरा ऑलराउंडर है उन्होंने पिछले खेलों में शानदार ढंग से गेंदबाजी की है और जो कि उनकी गेंद की लाइन और लेंथ एकदम सटीक रही थी जोफ्रा अब तक खेले गए दोनों मैचों में विकेट लेकर अच्छा प्रदर्शन किया है  उन्होंने प्रत्येक मैच में तीन विकेट लिए और प्लेइंग इलेवन में इस खिलाड़ी को खेलना एक निश्चित विकल्प है.

गेंदबाजी (धावल कुलकर्णी, ईश सोढ़ी, जयदेव उनादकट)

धवल कुलकर्णी और जयदेव उनादकट इस मैच के लिए तेज गति के गेंदबाजी की जिम्मेवारी दी जा सकती हैं यह दोनों ख़िलाड़ी अपने फॉर्म में अब तक सर्वश्रेष्ठ नहीं रहा हैं लेकिन वर्तमान परिस्थिति में सर्वोत्तम विकल्प हैं पिछले साल सीजन में एक प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था वह नीलामी में सबसे महंगा भारतीय खिलाड़ी था.
ईश सोढ़ी रॉयल्स के लिए अपना दूसरा मैच खेल सकते हैं उन्होंने सनराइजर्स के खिलाफ में अच्छी गेंदबाजी की और केन विलियमसन का सबसे महत्वपूर्ण विकेट भी लिया था वह उस खेल में 3-0-25-1 के आंकड़े के साथ वापसी किया था सोढ़ी का प्लेइंग इलेवन में होना चाहिए.
Delhi Daredevils

आईपीएल 2018: दिल्ली डेयरडेविल्स 32 वें मैच में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ इन 11 खिलाड़ियो को उतार सकती है

Mitchell Starc

मिचेल स्टार्क और पैट कमिंस के बाहर होने की वजह से आईपीएल फ्रेंचाइजी है गुस्सा