in , , , , ,

राजस्थान रॉयल्स 53वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ इन 11 खिलाड़ियो को उतारेंगी

ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज बेन लॉफलिन सीजन में वापसी करने के लिए लाइन में हैं.

Rajasthan Royals
Rajasthan Royals team celebrates a wicket. (Photo Source: Twitter)

आईपीएल सीजन 11 का 53वां मैच शनिवार को जयपुर में खेला जाना है और इस मैच में रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु और राजस्थान रॉयल्स आमने सामने होगी. दोनों टीमें इस सीजन में.13 मैचों में से 6-6 मैच जीतकर अब बराबरी पर हैं वही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने लगातार तीन मैच जीतकर अपना जौहर दिखा दिया है और राजस्थान रॉयल्स के लिए इस 53वें मैच में बड़ी चुनौती सामने आने वाली है क्योंकि रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु अपने पूरे फॉर्म में है पिछले मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने सनराइजर्स हैदराबाद को हराया था वहीं अब राजस्थान रॉयल्स अपनी नई रणनीति के साथ बेंगलुरु को हराने के लिए एड़ी-चोटी लगा देगी रॉयल चैलेंज बेंगलुरु के खिलाफ राजस्थान रॉयल्स अपने इन 11 खिलाड़ियों को उतार सकती है.

सालमी बल्लेबाज: (अजिंक्य रहाणे और राहुल त्रिपाठी)

राजस्थान की टीम सलामी बल्लेबाज की जोड़ी में थोड़ा परिवर्तन कर सकती है. राहुल त्रिपाठी और अजिंक्य रहाणे मिलकर शुरुआत कर सकते है. क्योंकि राहुल त्रिपाठी काफी अच्छे फॉर्म में है. पिछले मैच में उन्हें मौका दिया गया था. और अच्छी बल्लेबाजी भी की.

इस बीच अजिंक्य रहाणे का लाइनअप मे सलामी बल्लेबाज के रूप में वापस होने की संभावना है. सीजन में सलामी बल्लेबाज राहणे को सफलता मिली है. और डी आर्सी शार्ट की रफ्तार धीमी हो गई है.

मध्य क्रम: (संजू सैमसन, हेनरिक क्लासेन और प्रशांत चोपड़ा)

युवा खिलाड़ी संजू सैमसन राजस्थान रॉयल्स के मध्य क्रम में है. सैमसन ने सीज़न के लिए एक शानदार शुरुआत की लेकिन टूर्नामेंट के बीच मे उनका परफॉर्मेंस थोड़ा गिर गया लेकिन आखिरी कुछ खेलों में उन्होंने फिर से अच्छा फॉर्म दिखाया है और उम्मीद है कि आखिर के मैचों में उनके बड़े स्कोर खड़े करने की उम्मीद है.

दक्षिण अफ़्रीकी बल्लेबाज हेनरिक क्लासेन में वापस आ सकते है. . क्लेसन जोस बटलर के स्थान पर राजस्थान रॉयल्स के लिए कुछ अच्छी पारी खेल सकते है. इनकी बल्लेबाजी भी शानदार है और लंबे शार्ट मारने में भी माहिर है.

प्रशांत चोपड़ा ने सीज़न में एक मैच खेला है लेकिन काफी हद तक प्रभावित होने में असफल रहै है. उन्हें सभी महत्वपूर्ण वर्चुअल नॉकआउट में अपना दूसरा मौका मिलेगा. लेकिन उन्हें अपनी टीम में अहमियत साबित करने की जरूत होगी.

ऑल राउंडर: (के गोथम और स्टुअर्ट बिन्नी)

पिछले खेल में कोलकाता में के गोथम ने महज 3 रनों की पारी खेली जो उनके लिए किसी झटके से कम नही है. हालांकि जब बड़े पैमाने पर देखा जाता है तो वह सीजन में राजस्थान रॉयल्स के लिए सबसे बड़ा सकारात्मक खिलाड़ी रहे है. गोथम ने पॉवरप्ले में काफी अच्छी गेंदबाजी की है.

स्टुअर्ट बिन्नी अब खेल का एक अनुभवी खिलाड़ी है. इस सीजन में बिन्नी कई मैच भी खेले है ओर गेंद के साथ उनका परीक्षण नहीं किया गया है. बल्ले के साथ वो क्रीज पर हर बार शुरुवात करने में कामयाब रहे है. वह सीज़न के अंतिम गेम में बड़ा स्कोर करने की उम्मीद करेंगे.

स्पिनर: (ईश सोढ़ी)

न्यूजीलैंड की विरासत ईश सोढ़ी इस सीजन में राजस्थान रॉयल्स के लिए अच्छे स्पिनर साबित हुए है. इन्होंने बहुत अच्छी गेंदबाजी की है और विकेट लेने का विकल्प बन गए है. उन्होंने न केवल महत्वपूर्ण विकेट लिए हैं उन्होंने रन प्रवाह पर भी अच्छा नियंत्रण रखा है.

तेज गेंदबाज: (जयदेव उनादकट, जोफ्रा आर्चर और बेन लाफ़लिन)

तेज गेंदबाजी विभाग में जयदेव उनादकट रॉयल्स के लिए अग्रणी रहे हैं हालांकि वह इस सीजन में मैचों में कुछ मैचों मे सफल नही रही. इसके बावजूद उन्हें खेल के लिए बनाए रखे जाने की संभावना है और वह अपनी तरफ से एक अच्छे शो के साथ आने की उम्मीद करेंगे.

इस बीच जोफ्रा आर्चर टूर्नामेंट में गंभीर चुनौती है. हर बार उन्हें गेंदबाजी हमले में पेश किया गया है के उन्होंने अपनी टीम के लिए अवसर पैदा किए हैं.

ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज बेन लॉफलिन सीजन में वापसी करने के लिए लाइन में हैं. आरसीबी बल्लेबाजी भारी पक्ष होने के साथ रॉयल्स अपने गेंदबाजी विभाग को मजबूत बनाना चाहते हैं. लॉफलिन जो पहले सीजन में खेले थे.खेल ग्यारह के लिए एक अच्छा जोड़ा होगा.

Royal Challengers Bangalore

राजस्थान रॉयल्स बनाम रॉयल चेलेंजर्स बेंगलौर के बीच मैच के दौरान इस तरह के रहने वाले है हालात

Sandeep Lamichhane

दिल्ली डेयरडेविल्स की चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ शानदार जीत के बाद फैन्स ने इस तरह से दी प्रतिक्रिया