टीम इंडिया के पेस बॉलिंग अटैक में एक और गेंदबाज को देखना चाहते हैं इरफान पठान - क्रिकट्रैकर हिंदी

टीम इंडिया के पेस बॉलिंग अटैक में एक और गेंदबाज को देखना चाहते हैं इरफान पठान

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज को टी-20 वर्ल्ड कप की टीम में देखना चाहते हैं इरफान पठान।

Irfan Pathan. (Photo Source: Twitter)
Irfan Pathan. (Photo Source: Twitter)

टीम इंडिया इस समय टी-20 फॉर्मेट में लगातार शानदार प्रदर्शन कर रही है। टीम ने सबसे छोटे प्रारूप में लगातार 12 मैच जीते हैं, हाल ही में उन्होंने टी-20 सीरीज में श्रीलंका का 3-0 से क्लीन स्वीप किया है। इससे पहले उन्होंने तीन मैचों की सीरीज में न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज का भी क्लीन स्वीप किया था जबकि इससे पहले की तीन जीत यूएई में पिछले साल खेले गए टी-20 विश्व कप के दौरान आई थी।

रोहित शर्मा के नेतृत्व में, फिलहाल तो टीम इंडिया में सब कुछ सही जाता हुआ दिख रहा है। हालांकि, भारत के पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान को अभी भी टीम इंडिया में एक कमजोरी नजर आ रही है। उनका मानना ​​है कि भारत को इस साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप को ध्यान में रखते हुए बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों को मौका देना शुरू करना होगा।

इरफान पठान इन गेंदबाजों को आगमी टी-20 वर्ल्ड कप टीम में देखना चाहते हैं

उन्होंने इसके लिए खलील अहमद, टी नटराजन और चेतन सकारिया को नामित किया है, जो सभी बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं, लेकिन पिछले कुछ समय से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेले हैं। इरफान को लगता है कि अगर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सत्र में अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो सकारिया टीम में शामिल होने के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकते हैं।

स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत के दौरान इरफान ने कहा कि, “इन सभी नामों के साथ (जो भारतीय गेंदबाज पहले से ही टीम का हिस्सा हैं), मैं सिर्फ एक और नाम जोड़ना चाहता हूं – एक बाएं हाथ के गेंदबाज का और वह जो भी आईपीएल में प्रदर्शन कर सकता है – खलील अहमद, नटराजन या चेतन सकारिया। मुझे पता है कि सकारिया इस समय फॉर्म में नहीं हैं, लेकिन अगर वह आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करते हैं, तो वह एक विकल्प होंगे।”

इरफान पठान ने जिन तीन गेंदबाजों का जिक्र किया, वो पिछले कुछ महीनों में विभिन्न कारणों से भारत के लिए नहीं खेले हैं। टी नटराजन ने 2020-21 सीजन के ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान सभी प्रारूपों में सनसनीखेज पदार्पण किया था, लेकिन बार-बार चोट की चिंताओं ने उन्हें राष्ट्रीय टीम से दूर रखा। खलील अहमद आखिरी बार नवंबर 2019 में भारत के लिए खेले थे।