"...हमें डुबो रहा है" भारत से हार के बाद भड़के सिकंदर रजा, दे दिया बड़ा बयान

“…हमें डुबो रहा है” भारत से हार के बाद भड़के सिकंदर रजा, दे दिया बड़ा बयान

भारत ने 10 जुलाई को खेले गए तीसरे टी20 मैच में जिम्बाब्वे को 25 रन से हराया।

Sikandar Raza (Image Source: Getty Images)
Sikandar Raza (Image Source: Getty Images)

भारत ने 10 जुलाई को खेले गए तीसरे टी20 मैच में जिम्बाब्वे को 25 रन से हराया। भारतीय टीम ने कप्तान शुभमन गिल (66) के अर्धशतक और ऋतुराज गायकवाड़ के 49 रनों के दम पर 182 रन बनाए थे, जवाब में जिम्बाब्वे ने 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 159 रन बनाए। मेजबान जिम्बाब्वे के लिए डियोन मार्च (नाबाद 65) ने अर्धशतक लगाया और क्लाइव मदांडे ने 37 रन बनाए। मदांडे और मेयर्स ने अच्छी साझेदारी की और बड़े रन बनाकर टीम को जीत दिलाई लेकिन टीम को जीत दिलाने में असफल रहे।

भारत के लिए ऑलराउंडर वाशिंगटन सुंदर ने शानदार गेंदबाजी की। उन्होंने चार ओवर में 15 रन देकर तीन विकेट लिये थे और वहीं, आवेश खान ने 2 बड़े विकेट लिए। इस मैच में जीत के साथ ही टीम इंडिया ने अब सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली। अब दोनों टीमों के बीच सीरीज का चौथा मैच 13 जुलाई को इसी मैदान पर खेला जाएगा। जिम्बाब्वे के कप्तान सिकंदर रजा हरारे में तीसरे टी20 मैच में भारत के खिलाफ 23 रन से हार के बाद निराश हैं। पूरी सीरीज में शेवरॉन का फील्डिंग प्रदर्शन खराब रहा है और रजा इससे निराश हैं।

इसका विश्लेषण करते हुए रजा ने कहा कि उन्होंने 20 अतिरिक्त रन दिए और आखिरकार 23 रन से हार गए। अनुभवी ऑलराउंडर शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों के प्रदर्शन से भी खुश नहीं थे। 183 रनों का पीछा करते हुए उन्हें अच्छी शुरुआत की जरूरत थी, लेकिन एक समय जिम्बाब्वे का स्कोर 19/3 था। इसके बावजूद रजा ने आश्वासन दिया कि उन्हें वेस्ली मधेवेरे और तदीवानाशे मारुमानी की सलामी जोड़ी पर पूरा भरोसा है और वे रन बनाने के लिए उनका समर्थन करेंगे।

भारत के खिलाफ मिली हार के बाद सिकंदर रजा का बयान

“हमें अपनी फील्डिंग पर काफी गर्व हुआ करता था, लेकिन अब वहीं हमें डुबो रहा है। हमने करीब 20 रन एक्ट्रा दिए। हालांकि, हमारे टॉर ऑर्डर में अभी भी समस्या है और हम पिछले 15 साल में 15 ओपनिंग जोड़ी और खिलाड़ियों को आजमा चुके हैं, लेकिन हमें खिलाड़ियों को बैक करते रहना होगा और जब ये सेट हो जाएंगे तो चीजें हमारे पक्ष में होगी।”

“अब समय आ गया है कि हम सभी को जिम्मेदारी लेनी होगी। मैं युवा खिलाड़ियों की कुछ गलतियों को स्वीकार कर सकता हूं, लेकिन अनुभवी प्लेयर्स को आगे आना चाहिए।”

close whatsapp