टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले केएल राहुल ने भरी जीत की हुंकार, लेकिन पिच को लेकर जताया संदेह - क्रिकट्रैकर हिंदी

टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले केएल राहुल ने भरी जीत की हुंकार, लेकिन पिच को लेकर जताया संदेह

केएल राहुल को उम्मीद है कि मयंक अग्रवाल के साथ वह टीम को अच्छी शुरुआत दे सकते हैं।

KL Rahul. (Photo by Philip Brown/Popperfoto/Popperfoto via Getty Images)
KL Rahul. (Photo by Philip Brown/Popperfoto/Popperfoto via Getty Images)

भारत 26 दिसंबर से तीन टेस्ट और तीन एकदिवसीय मैचों के लिए दक्षिण अफ्रीका से भिड़ने को तैयार है। सीरीज से पहले भारत के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने माना है कि टीम इस बार चुनौती के लिए बेहतर तरीके से तैयार है। भारत ने अभी तक दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज नहीं जीती है। हालांकि, विदेशी दौरे पर टीम के हालिया प्रदर्शन को देखते हुए सभी उनसे इस सीरीज में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे हैं।

राहुल ने कहा कि टीम अच्छी तरह से तैयार है और उन्हें उम्मीद है कि मयंक अग्रवाल के साथ वह टीम को अच्छी शुरुआत दे सकते हैं। इस सीरीज को लेकर उपकप्तान केएल राहुल ने कहा कि, “एक विदेशी सीरीज में, टीम को अच्छी शुरुआत देना एक बल्लेबाज के रूप में सबसे महत्वपूर्ण बात है। पिछली बार मैं यहां 3-4 साल पहले आया था, और यह दक्षिण अफ्रीका का मेरा पहला दौरा था।

उस दौरे के दौरान मुझे वास्तव में नहीं पता था कि इन परिस्थितियों को कैसे संभालना है। लेकिन इस बार, यहां पहले दो टेस्ट मैच खेल चुके हैं और यहां के हालात कैसे हैं, इसके बहुत सारे वीडियो देखने के बाद, हम थोड़ा बेहतर तरीके से तैयार हैं। और हमने टेस्ट मैच में जाने के लिए बहुत अच्छी तैयारी की है, इसलिए वास्तव में 26 तारीख को लेकर उत्साहित हूं और उम्मीद है कि मैं और मयंक अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दे सकते हैं।”

दक्षिण अफ्रीका की पिचें थोड़ी चुनौतीपूर्ण हो सकती हैं: केएल राहुल

पिछली बार जब भारत ने दक्षिण अफ्रीका की यात्रा की थी तो वो टेस्ट सीरीज हार गए थे लेकिन जोहान्सबर्ग में अंतिम टेस्ट में प्रभावशाली जीत दर्ज की थी। उस सीरीज से अब तक, केएल राहुल एक लंबा रास्ता तय कर चुके हैं और टीम इंडिया के सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ियों में से एक बन गए हैं।

उन्होंने कहा कि हालांकि उन्होंने अपने अनुभव के अनुसार यहां कई मैच नहीं खेले हैं, लेकिन उन्हें लगता है कि परिस्थितियां चुनौतीपूर्ण हो सकती हैं। राहुल ने कहा कि “मैंने यहां दक्षिण अफ्रीका में अधिक मैच नहीं खेले हैं, लेकिन अपने अनुभव से, मुझे लगता है कि कभी-कभी टेनिस गेंद की उछाल के कारण पिचें थोड़ी चुनौतीपूर्ण हो सकती हैं और हम ऑस्ट्रेलिया में खेले चुके हैं जहां की पिचें तेज और उछालभरी होती है।”