मुंबई इंडियंस के गेंदबाजी कोच ने हार्दिक पांड्या की फिटनेस को लेकर दिया अपडेट - क्रिकट्रैकर हिंदी

मुंबई इंडियंस के गेंदबाजी कोच ने हार्दिक पांड्या की फिटनेस को लेकर दिया अपडेट

हार्दिक पांड्या दूसरे फेज के दोनों मुकाबले में टीम से बाहर थे।

Hardik Pandya
Hardik Pandya. (Photo: Surjeet Yadav/IANS)

मुंबई इंडियंस के किए आईपीएल के दूसरे फेज की शुरुआत कुछ अच्छी नहीं रही है। दूसरे फेज में मुंबई ने अब तक दो मुकाबले खेले हैं और दोनों में ही उन्हें हार का सामना करना पड़ा है। इस फेज में सबसे पहले उन्हें चेन्नई के हाथों हार का सामना करना पड़ा वहीं लीग के 34वें मैच में केकेआर के सामने भी उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा।

दोनों ही मुकाबले में टीम के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या प्लेइंग इलेवन ने शामिल नहीं थे। हार्दिक की फिटनेस टीम के लिए बड़ा चिंता का विषय बना हुआ है और सूत्रों की माने तो ऐसा माना जा रहा है कि हार्दिक आने वाले कुछ और मैचों में टीम से बाहर रह सकते हैं। उनकी फिटनेस को लेकर मुंबई के बॉलिंग कोच शेन बॉन्ड ने बड़ा खुलासा किया है। उनका कहना है कि हार्दिक को जो अभ्यास के दौरान चोट लगी थी वो अभी भी उससे वापसी कर रहे हैं

हार्दिक को लेकर क्या कहा शेन बॉन्ड

शेन बॉन्ड ने बयान देते हुए कहा कि “हार्दिक ठीक हो रहे हैं, हम उन्हें टीम में शामिल करने की जल्दबाजी में नहीं हैं क्योंकि हम नहीं चाहते कि चोटिल होने के बाद पूरे टूर्नामेंट से बाहर हो जाएं हमें उम्मीद है कि हम उन्हें जल्दी ही टीम में वापस लाएंगे। उन्होंने आगे कहा, वह अच्छी तरह से ट्रनिंग कर रहे हैं। हम स्पष्ट रूप से भारत की जरूरतों के साथ-साथ अपनी टीम की जरूरतों को भी संतुलित कर रहे हैं, एक चीज जो यह फ्रेंचाइजी बहुत अच्छी तरह से करती है, वह है अपने खिलाड़ियों की देखभाल करना, न केवल इस प्रतियोगिता को जीतने की कोशिश के लिए बल्कि अगले महीने होने वाले टी-20 विश्व कप पर भी नजर रखे हुए है। इसलिए, उम्मीद है कि अगले मैच के लिए हार्दिक को चुना जाएगा।”

वर्ल्ड कप टीम का भी हिस्सा हैं हार्दिक

फिलहाल मुंबई इंडियंस को हार्दिक की कमी बहुत खल रही है। लेकिन फैंस को आईपीएल से ज्यादा वर्ल्ड कप की चिंता सता रही है। हार्दिक वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा है लेकिन जिस तरह से वो चोट की वजह से लगातर टीम से बाहर है उसे देखकर सभी को अब वर्ल्ड कप की चिंता सताने लगी है। जब वर्ल्ड कप के लिए हार्दिक का चयन हुआ था तो चयनकर्ताओं ने ये आश्वासन दिया था कि वो आने वाले टूर्नामेंट में बैटिंग के साथ साथ बॉलिंग में भी चार ओवर का कोटा पूरा करेंगे।