22 जनवरी को शाम 5 बजे लखनऊ और अहमदाबाद की टीम करेगी बड़ा खुलासा - क्रिकट्रैकर हिंदी

22 जनवरी को शाम 5 बजे लखनऊ और अहमदाबाद की टीम करेगी बड़ा खुलासा

इंडियन प्रीमियर लीग की गवर्निंग काउंसिल ने लखनऊ और अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को औपचारिक रूप से मंजूरी दे दी है।

IPL Trophy. (Photo Source: IPL/BCCI)
IPL Trophy. (Photo Source: IPL/BCCI)

दो नई आईपीएल फ्रेंचाइजी लखनऊ और अहमदाबाद को टूर्नामेंट के 15वें संस्करण के लिए मेगा ऑक्शन से पहले अपनी रिटेंशन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए 22 जनवरी तक का समय दिया गया है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) द्वारा सीवीसी कैपिटल्स के स्वामित्व वाली अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को अंतिम मंजूरी देने के दो दिन बाद इस खबर की पुष्टि हुई।

बीसीसीआई ने शुरू में नई टीमों के लिए गैर-रिटेन किए गए खिलाड़ियों के पूल से अपने तीन रिटेंशन को नाम देने के लिए 25 दिसंबर की समय सीमा तय की थी। हालांकि, सीवीसी मुद्दे के आसपास कानूनी विवाद के कारण इस पूरे प्रक्रिया में देरी हुई थी।

नई फ्रेंचाइजी के लिए क्या है रिटेंशन के नियम?

इस बीच, नई टीमों के लिए रिटेंशन नियमों के अनुसार, उन्हें अधिकतम तीन खिलाड़ियों को शामिल करने की अनुमति है – जिसमें अधिकतम दो भारतीय खिलाड़ी और एक विदेशी खिलाड़ी रह सकते हैं। साथ ही नई टीमें एक से ज्यादा अनकैप्ड खिलाड़ी को साइन नहीं कर सकती हैं। इस साल की मेगा ऑक्शन में राइट टू मैच (RTM) कार्ड का कोई प्रावधान नहीं है।

यदि कोई फ्रैंचाइज़ी तीन खिलाड़ियों को बरकरार रखती है, तो वेतन सीमा से 33 करोड़ रुपये (खिलाड़ी 1 के लिए 15 करोड़ रुपये, खिलाड़ी 2 के लिए 11 करोड़ रुपये, खिलाड़ी 3 के लिए 7 करोड़ रुपये) की कटौती होगी। दो रिटेंशन के मामले में, कटौती 24 करोड़ (14 करोड़ और 10 करोड़) होगी, जबकि एक रिटेंशन या अनकैप्ड खिलाड़ियों के मामले में आंकड़े क्रमशः 14 करोड़ और 4 करोड़ हैं।

नई फ्रेंचाइजी को मूल रूप से खिलाड़ियों को चुनने के लिए दो सप्ताह का समय दिया जाना था, हालांकि यह समझा जाता है कि बोर्ड और संबंधित टीम प्रबंधन ने सहमति व्यक्त की है कि इसके लिए 10 दिन पर्याप्त होंगे। इन्ही सब मुद्दों को ध्यान में रखते हुए नई फ्रेंचाइजी के पास रिटेंशन की पूरी प्रक्रिया समाप्त करने के लिए 22 जनवरी को शाम 5 बजे तक का समय है।