कोविड-19 के कारण न्यूजीलैंड-बांग्लादेश टेस्ट सीरीज पर छाए संकट के बादल - क्रिकट्रैकर हिंदी

कोविड-19 के कारण न्यूजीलैंड-बांग्लादेश टेस्ट सीरीज पर छाए संकट के बादल

बांग्लादेश और न्यूजीलैंड के बीच एक जनवरी से दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जाएगी।

New Zealand
New Zealand. (Photo Source: Twitter)

बांग्लादेश और न्यूजीलैंड को 1 जनवरी से दो टेस्ट मैचों की सीरीज का आगाज होना है। हालांकि, हाल के घटनाक्रम के अनुसार, बांग्लादेश की स्पिन गेंदबाजी सलाहकार रंगना हेराथ के कोविड-19 से संक्रमित होने के बाद इस सीरीज पर संकट के बादल छाए हुए हैं। ताजा हालत को देखते हुए बांग्लादेश को 21 दिसंबर तक कोई अभ्यास सत्र नहीं करने के लिए कहा गया था और पूरी टीम को वापस क्वारंटाइन में भेज दिया गया था।

इस बीच खबर ये भी है कि क्वारंटाइन संबंधी मुद्दों के कारण सीरीज को पुनर्निर्धारित किया जा सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर बांग्लादेश को 21 दिसंबर के बाद क्वारंटाइन में रहने के लिए कहा जाता है, तो इससे टेस्ट सीरीज को फिर से रिशेड्यूल किया जा सकता है।

टेस्ट सीरीज को रिशेड्यूल करने पर BCB अध्यक्ष नजमुल हसन ने दिया बड़ा बयान

पूरे मामले पर बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के अध्यक्ष नजमुल हसन ने खुलकर बात की। उन्होंने कहा कि लंबे समय तक बायो-बबल में रहने के कारण क्रिकेटर मानसिक और शारीरिक दोनों रूप से थक जाते हैं। बता दें कि सीरीज का पहला टेस्ट मैच तोरंगा के बे ओवल में 1 जनवरी से खेला जाएगा जबकि दूसरा टेस्ट 9 जनवरी से क्राइस्टचर्च के हेगले ओवल में खेला जाएगा।

नजमुल हसन ने पुरे मुद्दे को लेकर कहा है कि, “हमारे खिलाड़ी नॉन-स्टॉप बायो-बबल के कारण मानसिक और शारीरिक रूप से थक गए हैं। हमारे कुछ खिलाड़ी सीरीज को छोड़कर घर लौटने की सोच रहे थे लेकिन यह संभव नहीं है। यदि क्वारंटाइन को 21 दिसंबर से आगे बढ़ाया गया तो हम उनके साथ मीटिंग करेंगे। हमने उन्हें बता दिया है कि बिना तैयारी के सीरीज खेलना मुश्किल होगा।”

न्यूजीलैंड पहुंचने के बाद बांग्लादेश के गेंदबाजी कोच रंगना हेराथ कोरोना संक्रमित हुए और फिलहाल वो आइसोलेशन में हैं। बांग्लादेशी टीम के साथ यात्रा कर रहा मलेशिया का एक व्यक्ति भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। मलेशियाई नागरिक में ओमिक्रॉन वेरिएंट की पुष्टि हुई है और इसी कारण उसे तत्काल सरकार द्वारा बनाए गए आइसोलेशन सेंटर भेज दिया गया है।