हमें तो बस उपहार चाहिए: दानिश कनेरिया ने PCB और राष्ट्रीय चयनकर्ताओं पर एक बार फिर साधा निशाना - क्रिकट्रैकर हिंदी

हमें तो बस उपहार चाहिए: दानिश कनेरिया ने PCB और राष्ट्रीय चयनकर्ताओं पर एक बार फिर साधा निशाना

पाकिस्तान की चयन समिति केवल पक्षपात करना जानती है!

Danish Kaneria. (Photo by RIZWAN TABASSUM/AFP via Getty Images)
Danish Kaneria. (Photo by RIZWAN TABASSUM/AFP via Getty Images)

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा श्रीलंका के खिलाफ आगामी दो मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए 18-सदस्यीय टीम की घोषणा के बाद पूर्व पाकिस्तानी लेग स्पिनर दानिश कनेरिया ने राष्ट्रीय चयनकर्ताओं की खिंचाई करते हुए चौंकाने वाला बयान दिया है।

पाकिस्तान के अनुभवी स्पिनर यासिर शाह ने लगभग 10 महीने तक मैदान से बाहर रहने के बाद श्रीलंका दौरे के लिए टेस्ट टीम में वापसी की है। वह काफी लंबे समय से अपनी फिटनेस और चोटों से झूझ रहे थे। हालांकि, अनुभवी लेग-स्पिनर की वापसी से साजिद खान को अपनी जगह से हाथ धोना पड़ा, जबकि वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज में तीनो मैचों में खेले थे। जिस पर पूर्व स्पिनर ने कहा साजिद खान के साथ भेदभाव हो रहा है।

इसके अलावा, दानिश कनेरिया ने सरफराज अहमद के चयन पर भी सवाल उठाए, क्योंकि उन्हें मोहम्मद रिजवान के चलते प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिल पाएगी, फिर उन्हें टीम में क्यों जगह दी गई? आपको बता दें, शान मसूद ने भी श्रीलंका दौरे के लिए पाकिस्तान की टेस्ट टीम में वापसी की है, वहीं अनकैप्ड ऑलराउंडर आगा सलमान को भी घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के बदौलत राष्ट्रीय टीम में शामिल किया गया है।

दानिश कनेरिया ने पाकिस्तानी चयनकर्ताओं की खिंचाई की

खैर, पीसीबी (PCB) के कुछ फैसलों से नाराज होकर दानिश कनेरिया ने दावा किया है कि जो कोई भी खिलाड़ी बोर्ड सदस्यों या फिर राष्ट्रीय चयकर्ताओं को उपहार देता है, और उन्हें खुश रखता है, उसे पाकिस्तान क्रिकेट टीम में चुना जाता है। उन्होंने कहा राष्ट्रीय टीम के अंदर पक्षपात कई वर्षों से चला आ रहा है।

दानिश कनेरिया ने अपने यूट्यूब चैनल पर साझा किए एक वीडियो में कहा: “मुझे समझ नहीं आ रहा है कि राष्ट्रीय चयनकर्ताओं ने किस आधार पर श्रीलंका दौरे के लिए ये टीम चुनी है। मुझे नहीं लगता है कि चयनकर्ता कभी सुधरेंगे और कभी खिलाड़ियों के बारे में सोच पाएंगे। मुझे तो हैरानी इस बात की है कि PCB अध्यक्ष रमीज राजा ने इस टीम को कैसे मंजूरी दें दी। ऑफ-स्पिनर साजिद खान ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सभी टेस्ट मैच खेले, क्योंकि पाकिस्तान नहीं चाहता था कि यासिर शाह ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों के खिलाफ बेनकाब हो जाए।

साजिद के साथ भेदभाव किया गया है। सरफराज अहमद को भी टीम में शामिल किया गया, जबकि मोहम्मद रिजवान की वजह से उसे प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिलेगी। मेरे हिसाब से सरफराज की जगह किसी युवा खिलाड़ी को चुना जा सकता था। पाकिस्तान को भविष्य के लिए मजबूत टीम बनाने की जरूरत है, लेकिन मौजूदा चयन समिति तो इस समय केवल पक्षपात करने में व्यस्त है। जो चयनकर्ताओं को उपहार देता है, उन्हें खुश रखता है, उसे आराम से टीम में जगह मिल जाती है। वहीं मेहनती और ईमानदार खिलाड़ियों के साथ अन्याय हो रहा है।”