आखिर कौन सी टीम इस टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड को हराएगी? केविन पीटरसन ने बताए दो नाम - क्रिकट्रैकर हिंदी

आखिर कौन सी टीम इस टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड को हराएगी? केविन पीटरसन ने बताए दो नाम

इंग्लैंड इस टूर्नामेंट में अब तक अजेय रहा है।

England Cricket Team (Photo Source: Getty Images)
England Cricket Team (Photo Source: Getty Images)

मौजूदा टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड की टीम जबरदस्त फॉर्म में नजर आ रही है। इस टूर्नामेंट में इंग्लिश टीम ने अब तक कुल चार मैच खेले हैं और सभी मुकाबले जीतकर सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है। इस वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज जैसी टॉप टीमें भी इंग्लैंड के सामने बिल्कुल फीकी नजर आई हैं। इंग्लैंड के इस शानदार प्रदर्शन को देखकर उनके पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने बड़ा बयान दिया है।

पीटरसन का मानना है कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान की टीम इस वर्ल्ड कप में इंग्लैंड को हरा सकती हैं लेकिन इसके लिए कुछ शर्तें हैं। केविन पीटरसन ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए कहा कि, “इस टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड को सिर्फ पाकिस्तान या अफगानिस्तान ही हरा सकता है। लेकिन उसके लिए मैच को को शारजाह में इस्तेमाल किए गए विकेट पर करवाना होगा। इंग्लैंड अगर कहीं और खेलता है तो इंग्लैंड को टी-20 वर्ल्ड कप दे देना चाहिए जैसे इस बार इंग्लिश प्रीमियर लीग की ट्रॉफी चेल्सी को दे देनी चाहिए।”

यहां देखिये केविन पीटरसन का वह ट्वीट

इंग्लैंड ने अपना आखिरी मुकाबला श्रीलंका के खिलाफ खेला था, जहां इंग्लिश टीम ने खराब शुरुआत के बाद शानदार वापसी करते हुए अपना चौथा मुकाबला जीता। इस मैच के हीरो जॉस बटलर रहे, जिन्होंने शानदार नाबाद शतक जड़ा और फील्डिंग करते हुए एक बेहतरीन रन आउट भी किया जो आखिर में मैच का टर्निंग पॉइंट भी बना।

इंग्लैंड के शानदार प्रदर्शन को लेकर इयोन मोर्गन ने क्या कहा ?

श्रीलंका के खिलाफ मैच जीतने के बाद इंग्लैंड ने सेमीफइनल में अपनी जगह पक्की की। इस मैच के बाद कप्तान मोर्गन ने अपनी टीम की तारीफ करते हए कहा कि, “हमारी टीम ने जिस तरीके का प्रदर्शन किया, उस पर मुझे गर्व महसूस हो रहा है। हालात काफी मुश्किल थे इसके बावजूद हम मैच जीत गए। मुझे भरोसा था कि मैं अच्छी बल्लेबाजी कर सकता हूं। मैने और जॉस ने एक बढ़िया साझेदारी की, हमारे फील्डर्स ने भी काफी बढ़िया काम किया और हम अच्छे स्कोर तक पहुंचने में कामयाब रहे।”