पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड आगामी सभी घरेलू सीरीज में करने जा रहा है एक बड़ा बदलाव - क्रिकट्रैकर हिंदी

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड आगामी सभी घरेलू सीरीज में करने जा रहा है एक बड़ा बदलाव

जून में वेस्टइंडीज के खिलाफ आगामी घरेलू सीरीज भी बिना बायो बबल प्रतिबंध के खेली जाएगी।

Pakistan fans. (Photo by Alex Davidson/Getty Images)

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने हाल ही में यह ऐलान किया है कि महामारी की स्थिति के कारण दो साल पहले लागू की गई COVID-19 और बायो-बबल प्रतिबन्ध को जल्द ही हटा दिया जाएगा। जब मार्च 2020 में कोविड-19 वायरस सामने आया था, तब सभी प्रकार की खेल गतिविधियों पर रोक लगा दी गई थी और दुनिया में तालाबंदी की गई थी।

जब कोरोना से सम्बंधित प्रतिबंध हटा दिए गए, तो बायो-बबल को लागू किया गया जिसमें सभी खेल बंद स्टेडियम में खेले जा रहे थे। पीसीबी क्रिकेट को वापस लाने वाले पहले क्रिकेट बोर्ड में से एक था, क्योंकि उन्होंने बंद दरवाजों के पीछे पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) का आयोजन किया था।

पीसीबी के मीडिया डायरेक्टर सामी-उल-हसन बर्नी ने आधिकारिक घोषणा की है कि, पाकिस्तान में आगामी वेस्टइंडीज श्रृंखला बिना किसी प्रतिबंध के खेली जाएगी। “पीसीबी इन प्रतिबंधों को अपनाने वाला दुनिया का पहला क्रिकेट बोर्ड बना था। यदि स्थिति सामान्य रहती है तो जून में वेस्टइंडीज के खिलाफ आगामी घरेलू सीरीज भी बिना किसी बायो बबल के खेली जाएगी।”

हाल ही में पाकिस्तान कप खेला गया था बिना किसी बायो बबल के

यह नियम कराची में राष्ट्रीय महिला टीम के शिविर से शुरू होगा और श्रीलंका के खिलाफ नियोजित घरेलू सीरीज तक जारी रहेगा, जो 24 मई से शुरू होगा। लेकिन इस सीरीज के दौरान खिलाड़ियों को कुछ-कुछ नियमों का पालन करना होगा।

उन्होंने कहा कि, “हालांकि, खिलाड़ियों और अधिकारियों को एहतियाती कदम उठाने और प्रशंसकों से सोशल डिस्टेंसिंग सहित प्रमुख एसओपी का पालन करने का निर्देश दिया जाएगा।”बता दें कि पीसीबी ने मुल्तान में खेले गए पाकिस्तान कप फाइनल में इसे आजमाया था, और यह फैसला अब तक सही साबित हुआ है।

रिपोर्ट की मानें तो बीसीसीआई भी बायो-बबल प्रतिबंधों को हटाने की पूरी कोशिश कर रहा है। बीसीसीआई के कुछ सूत्रों ने कहा है कि ये प्रतिबंध आयरलैंड और इंग्लैंड टूर में हटाया जाएगा। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने भी सभी खेल प्रतियोगिताओं से बायो- बबल प्रतिबंध को हटाने का निर्णय लिया है।