महिला बिग बैश: मैच खत्म होने से पहले हवा में गेंद उछालना पड़ा महंगा... मैच हो गया टाई - क्रिकट्रैकर हिंदी

महिला बिग बैश: मैच खत्म होने से पहले हवा में गेंद उछालना पड़ा महंगा… मैच हो गया टाई

Celebration blunder
(Photo Source: Twitter)

महिला बिग बैश 2017-18 का रोमांच अपने चरम पर है. बुधवार को बिग बैश मैच के दौरान एक ऐसा वाक्या देखने को मिला, जिसे देखकर सभी हैरान रह गए. दरअसल मैच के दौरान मेलबर्न रेनिगेड्स की खिलाड़ी को जीत से पहले ख़ुशी मानना काफी महंगा पड़ा, हलाकि वो गलती घातक साबित नहीं हुई पर वो इस सबक को ज़िन्दगी भर याद रखेंगी.

3 जनवरी को मेलबर्न और सिड्नी के बीच खेले गए मैच में सिक्सर्स के बल्लेबाज़ों की चतुराई के कारण मैच में सुपर ओवर का रोमांच देखने को मिला. मैच में मेलबर्न रेनिगेड्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में 120/7 का स्कोर बनाया. जवाब में सिड्नी के बल्लेबाजों ने अच्छा खेल दिखाया, जिसके कारण सिड्नी को मैच की अंतिम गेंद पर 3 रनों की दरकार थी.

सिड्नी के 118/7 के स्कोर पर बल्लेबाज़ सारा एली ने मेलबर्न की कप्तान एमी सेटर्थवेट की गेंद पर फाइन लेग दिशा में शॉट खेला, और तेजी से दौड़कर एक रन पूरा किया, जिसके बाद फ़ील्डर ने गेंद विकेटकीपर की तरफ फैंक दी, तभी मेलबर्न की विकेटकीपर ने जीत की ख़ुशी जाहिर करते हुए गेंद को हवा में उछाल दिया और बाकि खिलाड़ी भी उनके साथ जश्न मनाने लगे, लेकिन इस दौरान सिड्नी की बल्लेबाज़ ने बुद्धिमानता का परिचय देते हुए दूसरा रन भी दौड़ लिया, क्योंकि वे पहला रन दौड़ने के बाद रुकी नहीं थी.

सिड्नी की दोनों बल्लेबाजों को तेजी से दूसरा रन चुराते देख मेलबर्न की खिलाडी ने रनआउट करने की कोशिश की, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और उन्होंने दूसरा रन भी पूरा कर लिया. इस घटना के बाद मेलबर्न की टीम के आलावा स्टेडियम में मौजूद सभी हैरान हो गए. जिसके बाद मेलबर्न की कप्तान ने अंपायर से अनुरोध किया, कि इस गेंद को डेड गेंद क़रार दिया जायें, लेकिन अंपायर ने सिड्नी के पक्ष में फ़ैसला लिया.

इस अजीबोगरीब वाक्या के बाद टाई मैच का नतीज़ा सुपर ओवर से निकला. जिस दौरान मेलबर्न ने सिड्नी को 8 विकेट से हरा दिया. बल्ले और गेंद से शानदार खेल दिखाने वाले मेलबर्न  रेनिगेड्स की कप्तान एमी सेटर्थवेट को मैन ऑफ़ द मैच चुना गया. एमी सेटर्थवेट ने 44 रन और 21 रन देकर एक विकेट हासिल किया.

विडियो देखें यहाँ:

~ लेखक गौतम