महिला क्रिकेट का समर्थन करने के लिए अफगानिस्तान के ऊपर दबाव बनाया जाएगा: रमीज राजा - क्रिकट्रैकर हिंदी

महिला क्रिकेट का समर्थन करने के लिए अफगानिस्तान के ऊपर दबाव बनाया जाएगा: रमीज राजा

राजा ICC के कार्यकारी समूह का हिस्सा हैं जो अफगानिस्तान में खेल की स्थिति की समीक्षा कर रहा है।

Ramiz Raja. (Photo Source: Twitter/PCB)
Ramiz Raja. (Photo Source: Twitter/PCB)

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के अध्यक्ष रमीज राजा ने अफगानिस्तान की महिला क्रिकेट को लेकर बड़ा बयान दिया है। राजा का मानना है कि अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (ACB) पर महिला क्रिकेट का समर्थन करने के लिए दबाव डाला जाएगा। अफगानिस्तान में तालिबान शासन की वापसी ने महिलाओं को क्रिकेट या किसी भी तरह के बाहरी खेल खेलने पर रोक लगा दिया है।

विशेष रूप से, अफगानिस्तान अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के 12 पूर्ण सदस्यों में से एक है, जिसका स्पष्ट रूप से मतलब है कि उनके पुरुष टेस्ट क्रिकेट खेल सकते हैं। हालांकि, टेस्ट खेलने वाले देशों के लिए महिला टीम का होना भी अनिवार्य है। चूंकि तालिबान शासन इसका समर्थन नहीं करता है, इस वजह से ACB कई मौकों पर मुश्किल में फंसता हुआ नजर आया है। दरअसल, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ राष्ट्रीय टीम का ऐतिहासिक टेस्ट मैच, जो 27 नवंबर को होने वाला था, उसी कारण से स्थगित कर दिया गया था।

अफगानिस्तान में महिला क्रिकेट को लेकर रमीज राजा का बयान

चूंकि राजा अफगानिस्तान में खेल की स्थिति की समीक्षा करने वाले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के कार्यकारी समूह का हिस्सा हैं, इसलिए देश की क्रिकेट गतिविधियों पर उनकी कड़ी नजर है। अफगानिस्तान में महिला क्रिकेट की संभावना के बारे में बोलते हुए, राजा ने कहा कि अफगानिस्तान बोर्ड को समय की जरूरत है, लेकिन उन्हें अंततः महिला क्रिकेट का समर्थन करने की आवश्यकता होगी।

राजा ने महिला क्रिकेट के हवाले से कहा कि, “बाकी सब के तरह, हम उन्हें समय दे रहे हैं। वो मुश्किल स्थिति में हैं। अफगानिस्तान के लिए अभी जवाब देना मुश्किल है। अफगानिस्तान पर दबाव बनाया जाएगा। मुझे यकीन है कि उन्हें अगले छह महीनों में तय करना होगा कि वो आईसीसी के साथ कैसे व्यवहार करते हैं।”

उन्होंने आगे कहा कि, “अफगानिस्तान में चीजें अभी भी प्रवाह की स्थिति में हैं। रुको और देखो दुनिया की नीति है और यही आईसीसी की नीति है। यह तय किया गया था कि अफगानिस्तान क्रिकेट को प्रतिभा को बिल्कुल भी चोट नहीं पहुंचानी चाहिए क्योंकि उनके पास कुछ शानदार खिलाड़ी हैं, इसलिए उनकी सारी फंडिंग जारी रहेगी।”