क्या है न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर रचिन रवींद्र, सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ के बीच खास कनेक्शन - क्रिकट्रैकर हिंदी

क्या है न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर रचिन रवींद्र, सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ के बीच खास कनेक्शन

रचिन का नाम सचिन और राहुल द्रविड़ के नाम को मिलाकर रखा गया है।

Rachin Ravindra. (Photo by Kai Schwoerer/Getty Images)
Rachin Ravindra. (Photo by Kai Schwoerer/Getty Images)

न्यूजीलैंड के क्रिकेटर रचिन रवींद्र भले ही पहले टी-20 मैच में भारत के खिलाफ जयपुर में बल्ले से ज्यादा कमाल नहीं कर पाए,  लेकिन उन्होंने अपने नाम की वजह से सुर्खियां बटोरीं। 21 वर्षीय भारतीय मूल का है और उसका पहला नाम, रचिन, पूर्व दिग्गज सचिन तेंदुलकर और राहुल द्रविड़ के नाम से बना है।

रचिन पिता को भारत के दो स्टार क्रिकेटर राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर बहुत पसंद थे। ऐसे में पिता ने अपने बेटे का नाम राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर के नाम को जोड़कर रचिन रखा। राहुल द्रविड़ के नाम से उन्हें Ra और सचिन के नाम से Chin लेकर अपने बेटे का नाम रचिन (Rachin) रख दिया।

न्यूजीलैंड की राजधानी वेलिंग्टन के रहने वाले रवींद्र का भारतीय माता-पिता रवि कृष्णमूर्ति और दीपा कृष्णमूर्ति के घर हुआ था। रवि कृष्णमूर्ति बेंगलुरु के एक सॉफ्टवेयर सिस्टम आर्किटेक्ट थे। न्यूजीलैंड में हट हॉक्स क्लब के संस्थापक रवींद्र के पिता रवि कृष्णमूर्ति 1990 के दशक की शुरुआत में भारत को छोड़ कर चले गए थे।

सचिन तेंदुलकर को अपना आदर्श मानते हैं रचिन रवींद्र

नवंबर 2020 में उन्हें न्यूजीलैंड दौरे पर आई वेस्टइंडीज टीम के खिलाफ अभ्यास मैचों के लिए न्यूजीलैंड ए क्रिकेट टीम में शामिल किया गया था। वह जून में वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के लिए न्यूजीलैंड टीम का भी हिस्सा थे, हालांकि उन्हें मैच के लिए प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया गया था। उन्होंने सितंबर 2021 में बांग्लादेश के खिलाफ पांच मैचों की टी-20 सीरीज में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया, जिसमें न्यूजीलैंड को अंत में 2-3 से हार का सामना करना पड़ा।

2016 में Stuff.co.nz के हवाले से रवींद्र ने कहा कि, ”मेरी बल्लेबाजी के आदर्श सचिन तेंदुलकर हैं। जब मैं बहुत छोटा था, तब से मैंने अपना खेल उसी पर बनाया है।” बता दें कि भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले गए पहले टी-20 मैच में रचिन 8 गेंद की पारी में सिर्फ 7 रन बना सके। उन्हें मोहम्मद सिराज ने क्लीन बोल्ड किया था।