स्लो ओवर रेट को लेकर परेशान हुए कोच द्रविड़, कहा- इस क्षेत्र में टीम को सुधार करने की जरुरत है - क्रिकट्रैकर हिंदी

स्लो ओवर रेट को लेकर परेशान हुए कोच द्रविड़, कहा- इस क्षेत्र में टीम को सुधार करने की जरुरत है

सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच जोहान्सबर्ग के मैदान पर 3 जनवरी से खेला जाएगा।

Rahul Dravid. (Photo Source: BCCI)
Rahul Dravid. (Photo Source: BCCI)

टीम इंडिया पर विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (WTC) अंक तालिका में एक अंक का जुर्माना लगाया गया है क्योंकि सेंचुरियन टेस्ट के दौरान टीम टीम का ओवर रेट कम हो गया था। भारतीय टीम अपने लक्ष्य से एक ओवर कम फेंक रही थी और आईसीसी के नियमों के अनुसार, टीमों को प्रत्येक ओवर के लिए एक अंक का नुकसान होता है। इस प्रकार भारत के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में उसी के बारे में बात की है।

उनका मानना है कि यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां टीम को बेहतर करने की जरूरत है। उन्होंने यह भी कहा कि घरेलू परिस्थितियों में यह कोई बड़ी चिंता नहीं है लेकिन जब विदेशी दौरे की बात आती है तो उन्हें इस पर गौर करने की जरूरत है। घरेलू परिस्थिति में भारतीय स्पिनर अधिक गेंदबाजी करते हैं और वो अपने ओवर जल्दी-जल्दी फेंक लेते हैं जिससे टीम को ओवर रेट की चिंता नहीं होती है।

ओवर रेट कम होने की वजह से अंक गवाना निराशाजनक है- द्रविड़

प्रेस कॉन्फ्रेंस में राहुल द्रविड़ ने कहा कि, “आईसीसी खेल को गति देने की कोशिश कर रहा है और यह कठोर है। मुझे इस नियम से कोई परेशानी नहीं है। नियम सबके लिए समान हैं। यह मुश्किल है, हम चार तेज गेंदबाजों के साथ खेल रहे हैं। यह एक ऐसा क्षेत्र है जिसमें हमें बेहतर होने की जरूरत है। अंक गंवाने से निराशा हूं इस वजह से चूकना निराशाजनक होगा। भारत में कोई समस्या नहीं है, इसे विदेशों में देखने की जरूरत है।”

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहला टेस्ट मैच जीतने के बाद टीम इंडिया ने सीरीज में 1-0 से बढ़त बनाई है। भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका के गढ़ सेंचुरियन में उन्हें पराजित किया है। ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा कि आने वाले मैचों में भी दक्षिण अफ्रीकी टीम के लिए भारत को हराना कहीं से भी आसान नहीं होगा।

बता दें कि दूसरे टेस्ट से पहले अफ्रीकी टीम को बड़ा झटका लग चूका है। टीम के अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक पहला टेस्ट मैच खत्म होने के तुरंत बाद इस फॉर्मेट से संन्यास ले लिया था। ऐसे में अब देखना होगा कि तीसरे टेस्ट मैच में बतौर विकेटकीपर मेजबान टीम में किसे शामिल किया जाता है।