कोच के पद से हटने के बाद रवि शास्त्री को मिली बड़ी जिम्मेदारी, अब संभालेंगे यह पद - क्रिकट्रैकर हिंदी

कोच के पद से हटने के बाद रवि शास्त्री को मिली बड़ी जिम्मेदारी, अब संभालेंगे यह पद

मैं लीजेंड्स लीग क्रिकेट का हिस्सा बनकर बेहद उत्साहित हूं: शास्त्री

Ravi Shastri. (Photo by Pankaj Nangia/India Today Group/Getty Images)
Ravi Shastri. (Photo by Pankaj Nangia/India Today Group/Getty Images)

भारत के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री लीजेंड्स लीग क्रिकेट (LLC) के कमिश्नर के रूप में अपनी नई भूमिका निभाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। LLC एक पेशेवर आयोजन है जिसमें दुनिया भर के सभी संन्यास ले चुके खिलाड़ी हिस्सा लेंगे और यह अगले साल शुरू होगा। लीजेंड्स लीग क्रिकेट का पहला सीजन जनवरी 2022 में होगा।

शास्त्री का भारत के साथ कार्यकाल टी-20 वर्ल्ड कप 2021 तक ही था, जिसके बाद वह अपनी नई भूमिका को लेकर उत्साहित और खुश नजर आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि खेल से जुड़कर बहुत अच्छा लग रहा है और LLC  के सभी दिग्गजों से मिलना बहुत मजेदार होगा। बता दें कि टीम इंडिया के साथ शास्त्री का कार्यकाल उल्लेखनीय रहा।

नई भूमिका मिलने के बाद रवि शास्त्री ने दी अपनी प्रतिक्रिया

रवि शास्त्री ने क्रिकवायर के हवाले से कहा कि, ‘‘क्रिकेट से जुड़े रहना बहुत अच्छा लगता है, खासकर खेल के उन दिग्गजों के साथ जो चैम्पियन रहे हैं। यह गंभीर क्रिकेट के साथ काफी मजेदार भी होने वाला है। इन दिग्गजों को कुछ भी फिर से साबित नहीं करना है लेकिन उनकी प्रतिष्ठा दांव पर लगी होगी। मैं आपको आश्वस्त कर सकता हूं, यह देखना दिलचस्प होगा कि वे इसके साथ कैसे न्याय करते हैं।”

59 वर्षीय शास्त्री का मानना है कि LLC एक अनूठी पहल है और वह इसका हिस्सा बनकर बेहद उत्साहित हैं। प्रेस रिलीज में अभी तक लीग में शास्त्री की भूमिका को स्पष्ट नहीं किया गया है। इस लीग में भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के क्रिकेटर होंगे। शास्त्री ने कहा, “मैं लीजेंड्स लीग क्रिकेट का हिस्सा बनकर बेहद उत्साहित हूं। यह एक अनूठी पहल है और हमें इसका भविष्य काफी उज्ज्वल दिख रहा हैं।”

LLC के सह-संस्थापक और CEO रमन रहेजा ने कहा कि उन्हें इस पद को संभालने के लिए शास्त्री से बेहतर व्यक्ति नहीं मिल सकता था। शास्त्री ने भारतीय टीम को दुनिया भर में कई द्विपक्षीय जीत के लिए सहायता की है लेकिन इस दौरान उन्हें एक भी ICC ट्रॉफी नहीं मिली।