in

कुलदीप और चहल की दक्षिण अफ्रीका में धमाकेदार गेंदबाजी ने दिलाया सीरीज

वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा 17 विकेट लेकर स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव लेकर नंबर वन पर

Yuzvendra Chahal & Kuldeep Yadav
Yuzvendra Chahal & Kuldeep Yadav. (Photo Source: Twitter)

दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर भारतीय टीम ने इतिहास रच दिया है और भारतीय टीम के दो स्पिन गेंदबाजों ने तो कमाल ही कर दिया भारतीय टीम के चाइना मैन कहे जाने वाले स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव ने और यजुवेंद्र चहल ने अपनी टीम के लिए दक्षिण अफ्रीका धुरंधर बल्लेबाजों को धूल चटा दिया दोनों ने मिलकर कुल 33 विकेट दक्षिण अफ्रीका में लिए हैं. और इन दोनों के वजह से ही भारतीय टीम मैच जीतने में कामयाब हो पाई.

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा 17 विकेट लेकर स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव लेकर नंबर वन पर है. वहीं यजुवेंद्र चहल ने 16 विकेट अपने नाम किए हैं. लेकिन कुलदीप यादव ने जो रिकॉर्ड अपने नाम किया है वह काबिले तारीफ है. कुलदीप यादव ने दक्षिण अफ्रीका कि धरती पर किसी भी द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं.

दक्षिण अफ्रीका में द्विपक्षीय सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज: 

साल 1994 में दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच सात मैच में क्रेग मैथ्यूज ने 17 विकेट अपने नाम किया था. जबकि इस साल कुलदीप यादव ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 6 मैच खेलकर 17 विकेट अपने नाम कर लिया हैं. वही यजुवेंद्र चहल कुलदीप यादव के पीछे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 6 मैच खेलकर 16 विकेट अपने नाम किया है.

कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की इसी धमाकेदार पारी पर कुछ दिन पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी जैक कैलिस ने भी जमकर तारीफ की थी. दक्षिण अफ्रीका के महान ऑलराउंडर जैक कैलिस ने एक दिवसीय श्रृंखला में मिली दक्षिण अफ्रीका को हार की समीक्षा करते हुए बताया था कि हमारे बल्लेबाजों ने भारतीय स्पिनरों का सामना नहीं किया. भारतीय स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव पूरे मैच में छाए रहे और अपना दबदबा दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों पर बनाएं रखे थे.

Virat Kohli and Ajinkya Rahane (Photo Source: Twitter)

आखिरी वनडे मैच में जीत के साथ विराट कोहली के नाम जुड़े एक साथ इतने रिकॉर्ड

Virat Kohli press conference

विराट कोहली ने आखिरी वनडे मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में दिखाया अपना गुस्सा एक बार फिर