हैदराबाद का साथ छोड़ बड़ौदा लौटने की तैयारी में हैं अंबाती रायडू - क्रिकट्रैकर हिंदी

हैदराबाद का साथ छोड़ बड़ौदा लौटने की तैयारी में हैं अंबाती रायडू

बीसीए (BCA) की दीपक हुड्डा के प्रतिस्थापन की तलाश अंबाती रायडू पर समाप्त हो सकती है।

Ambati Rayudu. (Photo by Matt Roberts/Getty Images)
Ambati Rayudu. (Photo by Matt Roberts/Getty Images)

भारत और चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के अनुभवी बल्लेबाज अंबाती रायडू आगामी घरेलू सीजन में बड़ौदा के लिए खेल सकते है। दाएं-हाथ के बल्लेबाज पहले ही अपने करियर में बड़ौदा के लिए चार सीजनों में खेल चुके हैं, और अब एक बार फिर वह इस टीम में वापसी के लिए हैदरबाबाद का दामन छोड़ने तैयार हैं।

अंबाती रायडू ने कथित तौर पर बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन (बीसीए) को आगामी घरेलू सीजन में बड़ोदा टीम का प्रतिनिधित्व करने की अपनी इच्छा जाहिर  कर दी थी, और यहां तक कि शीर्ष परिषद (Apex Council) को अनुभवी बल्लेबाज के टीम स्थानांतरण से कोई आपत्ति नहीं हैं।

अंबाती रायडू करेंगे बड़ौदा टीम में वापसी

पिछले साल बड़ौदा के कप्तान कुणाल पांड्या के साथ विवाद के बाद दीपक हुड्डा ने बड़ौदा टीम का हाथ छोड़ राजस्थान का दामन थाम लिया था, जिनके प्रतिस्थापन की तलाश बीसीए (BCA) फिलहाल कर रहा है। हालांकि, बीसीए (BCA) की तलाश अंबाती रायडू पर समाप्त हो सकती है, क्योंकि 36-वर्षीय बल्लेबाज कथित तौर पर अगले महीने बड़ौदा के प्रारंभिक ट्रेनिंग शिविर में हिस्सा ले सकते हैं।

बीसीए (BCA) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई को बताया: “अंबाती रायुडू ने आईपीएल 2022 शुरू होने से पहले हमसे संपर्क किया था और बड़ौदा के लिए खेलने की अपनी इच्छा व्यक्त की थी। इसके बाद हमने रायडू की मांग को शीर्ष परिषद के समक्ष रखा और उन्हें इससे कोई आपत्ति नहीं है।”

जबकि बीसीए (BCA) के एक और अधिकारी ने इंडियन एक्सप्रेस के हवाले से कहा: “बड़ौदा ने रायडू को टीम में शामिल करने का फैसला कर लिया है, क्योंकि हम पहले से ही दीपक हुड्डा के प्रतिस्थापन की तलाश कर रहे हैं।”

आपको बता दें, अंबाती रायडू ने 97 प्रथम-श्रेणी मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 6,151 रन बनाए हैं। इसके अलावा उन्होंने भारत के लिए 55 वनडे और 6 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी खेले हैं। वह हाल ही में संन्यास को लेकर किए गए ट्वीट के कारण चर्चा में थे। उन्हें सीएसके (CSK) प्रबंधन के हस्तक्षेप के बाद यह ट्वीट हटाना पड़ा था।