हरभजन के संन्यास पर इमोशनल हुए सचिन तेंदुलकर, लिखा दिल छू लेने वाला संदेश - क्रिकट्रैकर हिंदी

हरभजन के संन्यास पर इमोशनल हुए सचिन तेंदुलकर, लिखा दिल छू लेने वाला संदेश

तेंदुलकर और हरभजन भारत के लिए कुछ यादगार जीत का हिस्सा रहे हैं।

Sachin Tendulkar and Harbhajan Singh
Indian cricketer Sachin Tendulkar and Harbhajan Singh walk back. (Photo by Pal Pillai/Getty Images)

भारत के दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने हाल ही में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा की। 41 वर्षीय हरभजन का शानदार करियर रहा है, जिसमें उन्होंने अपने करियर में 103 टेस्ट में 417 विकेट, 236 एकदिवसीय मैचों में 269 विकेट और 28 टी-20 में 25 विकेट लिए हैं। हरभजन सिंह ने अपने संन्यास की जानकारी सोशल मीडिया के जरिए फैंस को दी।

उन्होंने लिखा ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘हर चीज का अंत जरूर आता है। मैंने आज इस खेल को अलविदा कहा है जो कि मेरे लिए सबकुछ था। मैं उन सभी का धन्यवाद कहना चाहता हूं जिन्होंने मेरी इस 23 साल के सफर को यादगार और खूबसूरत बनाया।’ हरभजन सिंह के इस ऐलान के बाद उनके साथी खिलाड़ियों ने शानदार करियर के लिए उन्हें बधाई देते हुए दिखे।

इसी बीच भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भी इस मौके पर उन्हें बधाई दी लेकिन अलग अंदाज में। सचिन और हरभजन ने एक साथ बहुत सारी क्रिकेट खेली है और निश्चित रूप से एक साथ काफी समय बिताया है। वे भारत के लिए कुछ यादगार जीत का हिस्सा भी रहे हैं।

सचिन तेंदुलकर ने हरभजन सिंह के साथ पहली मुलाकात को याद किया। उन्होंने लिखा, “हरभजन सिंह से मैं पहली बार 1995 में नेट्स में मिला था। वक्त के साथ हमने कई शानदार यादें बनाई। तुम एक शानदार टीम मैन थे, तुम्हारा टीम में होना मजेदार होता था। मैं वह खुशनुमा लम्हें कैसे भूल सकता हूं, तुमने अपने लंबे करियर में टीम इंडिया के लिए बहुत कुछ किया है और हमें उसपर गर्व है। करियर के दूसरे फेज के लिए शुभकामनाएं।”

यहां देखिए हरभजन को लेकर सचिन का वह भावुक ट्वीट

बता दें कि पंजाब से आने वाले हरभजन सिंह ने अपना पहला टेस्ट मैच 1998 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट 2015 में श्रीलंका के खिलाफ खेला था। वहीं भज्जी ने अपना पहला वनडे मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ 1998 में खेला था। उनका आखिरी वनडे मुकाबला 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ था।