शाहिद अफरीदी ने PSL से भी लिया संन्यास, अब कभी भी क्रिकेट खेलते हुए नहीं दिखेंगे - क्रिकट्रैकर हिंदी

शाहिद अफरीदी ने PSL से भी लिया संन्यास, अब कभी भी क्रिकेट खेलते हुए नहीं दिखेंगे

शाहिद अफरीदी ने ट्विटर पर अपना स्वास्थय अपडेट देते हुए पाकिस्तानी सुपर लीग को अलविदा कह दिया है।

Shahid Afridi. (Photo by ARIF ALI/AFP via Getty Images)
Shahid Afridi. (Photo by ARIF ALI/AFP via Getty Images)

पकिस्तान सुपर लीग (PSL) के 2022 संस्करण ने पिछले कुछ दिनों से फैंस को भरपूर रोमांच देखने को मिला है। टूर्नामेंट में कुछ जहां कुछ बल्लेबाजों के बल्ले से धमाकेदार पारियां देखने को मिली वहीं मैदान पर एक से बढ़कर एक अच्छे फील्डिंग की नजारे देखने को मिले। इस बीच PSL से ही जुड़ी एक बड़ी खबर सामने निकल कर आ रही है।

पाकिस्तान के दिग्गज खिलाड़ियों में से एक शाहिद अफरीदी जिनको बूम-बूम के नाम से भी जाना जाता है। उन्होंने यह ऐलान किया है कि वो अब PSL के इस सीजन में कोई और मैच नहीं खेलेंगे। शाहिद अफरीदी ने PSL 2022 के संस्करण से पहले घोषणा की थी ये सीजन उनका आखिरी सीजन होगा। लेकिन अफरीदी ने एक आधिकारिक यूट्यूब चैनल पोस्ट वीडियो में अपने पीएसएल करियर और स्वास्थय को लेकर अपडेट दिया है।

वीडियो के जरिए शाहिद अफरीदी ने दी स्वास्थ्य को लेकर जानकारी

अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर अफरीदी ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उन्होंने कहा की, उनकी पीठ में काफी पुरानी चोट है। जिससे उनके शरीर के विभिन्न हिस्सों में दर्द बढ़ रहा है। इस कारण PSL 2022 में और कोई भी मैच नहीं खेलेंगे। उन्होंने ये भी कहा कि वो एक अच्छे नोट पर PSL से विदाई लेना चाहते थे। बता दें कि अफरीदी PSL 2021 में जीतने वाली मुल्तान-सुल्तान टीम का हिस्सा थे।

पकिस्तान के तेज तर्रार आलराउंडर अफरीदी पिछले 21 साल से अधिक समय से पाकिस्तान के लिए खेल रहे हैं। महज 16 साल की उम्र में एकदिवसीय मैच में पदापर्ण करने के बाद इस खिलाड़ी ने 1996 में अपने दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में केवल 37 गेंदों में ताबड़तोड़ शतकीय पारी खेली। ये रिकॉर्ड अफरीदी के नाम 17 से अधिक वर्षों तक रहा। 2014 में कोरी एंडरसन ने उनके इस रिकॉर्ड को तोडा था।

पाकिस्तान सुपर लीग का 7वां संस्करण उनके लिए अच्छा नहीं रहा। कोरोना संक्रमित होने के कारण उनको कुछ मैच से बाहर होना पड़ा। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उनकी शुरुआत अच्छी नहीं रही। अफरीदी ने 2010 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया। उसके बाद 2015 में अफरीदी ने एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से भी सन्यास लिया।