PSL के अपने आखिरी सीजन में अब इस टीम से खेलेंगे शाहिद अफरीदी - क्रिकट्रैकर हिंदी

PSL के अपने आखिरी सीजन में अब इस टीम से खेलेंगे शाहिद अफरीदी

विकेटकीपर आजम खान क्वेटा ग्लेडियेटर्स से इस्लामाबाद यूनाइटेड में चले गए हैं।

Shahid Afridi
Shahid Afridi. (Photo by ARIF ALI/AFP via Getty Images)

अनुभवी ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) के 2022 संस्करण में क्वेटा ग्लैडिएटर्स के लिए खेलने के लिए तैयार हैं। कराची किंग्स, मुल्तान सुल्तान्स और पेशावर जाल्मी के लिए आखिरी बार खेलने के बाद 41 वर्षीय अफरीदी के लिए यह इस लीग की चौथी टीम होगी। पिछले संस्करण में, वह मुल्तान सुल्तान का हिस्सा थे, जिन्होंने मोहम्मद रिजवान के नेतृत्व में अपना पहला PSL खिताब जीता था।

ग्लैडिएटर्स में अफरीदी के सरफराज अहमद की कप्तानी में खेलने की सबसे ज्यादा संभावना है। अफरीदी 2016 से इस लीग में खेल रहे हैं और आगामी संस्करण टी-20 लीग में उनका आखिरी सीजन हो सकता है। पाकिस्तान के पूर्व ऑलराउंडर ने ग्लेडियेटर्स को खिताब दिलाने के लिए मार्गदर्शन करने के बाद PSL को अलविदा कहना चाहेंगे।

क्वेटा ग्लैडिएटर्स में शामिल होने के बाद शाहिद अफरीदी ने क्या कहा ?

PSL के आधिकारिक वेबसाइट के हवाले से शाहिद अफरीदी ने कहा कि, “मैं क्वेटा ग्लैडिएटर्स में शामिल होने के लिए उत्साहित हूं। 2019 में PSL का खिताब जीतने के बावजूद पिछले कुछ सीजन इस टीम के लिए उतार-चढ़ाव भरे रहे हैं। अपने अंतिम PSL सीजन में मेरा सपना होगा कि मैं 2017 में पेशावर जाल्मी के साथ खिताब जीतने के बाद इस बार क्वेटा के साथ चैम्पियन बनकर अपने लीग के सफर को समाप्त करूं।”

अफरीदी ने आगे कहा कि, “PSL एक ऐसा आयोजन है, जो एक खिलाड़ी को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित और प्रेरित करता है। मैं अपनी टीम की मदद करने के लिए उसी प्रेरणा का उपयोग करूंगा और ऐसा प्रदर्शन करूंगा, जिससे हम अपने लक्ष्य को हासिल कर सके।”

अफरीदी के साथ-साथ जेम्स विंस को भी सुल्तान से ग्लेडियेटर्स में ट्रेड किया गया है। इफ्तिखार अहमद, जो पिछले सीजन में इस्लामाबाद यूनाइटेड के लिए खेले थे, वो ग्लेडियेटर्स में विंस और अफरीदी के साथ अपने कौशल का प्रदर्शन करेंगे। इफ्तिखार ने पीएसएल में अफरीदी के साथ फिर से जुड़ने पर प्रसन्नता व्यक्त की।

इफ्तिखार ने कहा, “इस्लामाबाद यूनाइटेड से हटना एक मुश्किल फैसला रहा है, लेकिन टी-20 क्रिकेट में अपने भविष्य को देखते हुए मुझे लगा कि यह सबसे अच्छा कदम है। मैं इस्लामाबाद यूनाइटेड प्रबंधन का उनके समर्थन और समझ के लिए आभारी हूं, क्योंकि वो मेरे सभी फैसलों में मेरे पीछे खड़े रहे हैं।”