भारत-पाक द्विपक्षीय सीरीज को लेकर सौरव गांगुली ने दी बड़ी जानकारी - क्रिकट्रैकर हिंदी

भारत-पाक द्विपक्षीय सीरीज को लेकर सौरव गांगुली ने दी बड़ी जानकारी

भारत-पाकिस्तान के बीच आखिरी द्विपक्षीय सीरीज साल 2013 में खेली गई थी।

Virat Kohli and Babar Azam. (Photo Source: Disney+Hotstar))
Virat Kohli and Babar Azam. (Photo Source: Disney+Hotstar))

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट को फिर से शुरू करने की  संभावनाओं के बारे में खुलकर बात की है। एक समय था जब ये दोनों कट्टर प्रतिद्वंदी एक-दूसरे के खिलाफ ज्यादा क्रिकेट खेलते थे। हालांकि, उन्होंने हाल के वर्षों में दोनों देशों के बीच राजनीतिक तनाव के कारण द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली है।

भारत और पाकिस्तान ने आखिरी बार 2012-13 में द्विपक्षीय सीरीज खेली थी। तब से दोनों टीमें केवल ICC टूर्नामेंट और एशिया कप जैसे टूर्नामेंटों में मिलते हैं। भारत-पाक के बीच आखिरी मैच टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में खेला गया था जिसमें बाबर आजम की टीम ने 10 विकेट से जीत हासिल की थी।

भारत-पाक सीरीज को लेकर सौरव गांगुली ने क्या कहा?

गांगुली ने 13 नवंबर को 40वें शारजाह अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेले में बात करते हुए कहा कि, “यह बोर्ड के हाथ में नहीं है। वर्ल्ड टूर्नामेंट में दोनों टीमें एक-दूसरे से खेलती हैं। द्विपक्षीय क्रिकेट को कई वर्षों से रोक दिया गया है और यह ऐसा मुद्दा है जिस पर दोनों देशों की सरकारों को मिलकर काम करना है। यह रमीज के हाथ में नहीं है, ना ही मेरे।”

इस बीच PCB अध्यक्ष रमीज राजा ने कहा था कि दोनों देशों के बीच राजनीतिक मुद्दों के कारण 3 भारत-पाक मैचों की सीरीज भविष्य में संभव लगती है। सितंबर में दोनों पड़ोसी देशों के बीच सीरीज फिर से शुरू करने के बारे में पूछे जाने पर राजा ने कहा था कि यह अभी असंभव है।

उन्होंने कहा, “खेल मॉडल को राजनीति ने खराब कर दिया है और अभी स्थिति यही है कि हम इस मुद्दे पर जल्दबाजी नहीं करना चाहते हैं क्योंकि हमें अपने घरेलू और स्थानीय क्रिकेट पर ध्यान देना है।” टी-20 वर्ल्ड कप की बात करें तो इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम लीग स्टेज से ही बाहर हो गई थी वहीं पाकिस्तान सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हारकर बाहर हो गया था।