अब श्रीलंका की महिला टीम ने पाकिस्तान का दौरा किया रद्द - क्रिकट्रैकर हिंदी

अब श्रीलंका की महिला टीम ने पाकिस्तान का दौरा किया रद्द

शेड्यूल के मुताबिक इसी महीने श्रीलंका की महिला टीम को पाकिस्तान के लिए भरनी थी उड़ान।

Sri Lanka women. (Photo by Morgan Hancock/NurPhoto via Getty Images)
Sri Lanka women. (Photo by Morgan Hancock/NurPhoto via Getty Images)

पाकिस्तान क्रिकेट का बुरा समय खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। पहले न्यूजीलैंड, फिर इंग्लैंड और अब श्रीलंका सभी ने एक-एक करके वहां का दौरा करने से मना कर दिया है। श्रीलंका की महिला क्रिकेट टीम इस महीने के अंत में पाकिस्तान दौरे पर जाने वाली थी जिसे अब अनिश्चितकालीन समय के लिए रद्द कर दिया गया है।

इस सप्ताह की शुरुआत तक श्रीलंकाई बोर्ड इस दौरे के लिए आश्वस्त नजर आ रही थी। इस दौरे पर संभवतः तीन वनडे मैच खेला जाना था, साथ ही पिछले साल फरवरी-मार्च में टी-20 वर्ल्ड कप खेलने के बाद श्रीलंका की महिला टीम का यह पहला दौरा होने वाला था।

दौरे को लेकर श्रीलंका बोर्ड के CEO ने दी अहम जानकारी

इस दौरे को लेकर खबर ये भी आई थी कि पाकिस्तान के कुछ प्रमुख खिलाड़ी इस सीरीज के लिए उपलब्ध नहीं रहेंगे। हालांकि, दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड इस सीरीज को 2022 वनडे वर्ल्ड कप के बाद निर्धारित करने की कोशिश कर रहे हैं। इसको लेकर श्रीलंका बोर्ड के CEO एशले डी सिल्वा ने कहा कि “इस दौरे को लेकर बातचीत चल रही थी लेकिन मैनेजमेंट में बदलाव होने की वजह से उन्हें इस दौरे के लिए सही विंडो तलाशने में कठिनाई हो रही है।”

कोविड-19 की वजह से श्रीलंका की महिला टीम ऑस्ट्रेलिया में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप के बाद से एक भी मैच नहीं खेल सकी है और 2022 में होने वाले 50 ओवर के वर्ल्ड कप से पहले उन्हें कोई मैच नहीं खेलना है। वहीं, अगर पाकिस्तान की महिला टीम की बात करें तो उन्होंने अपनी आखिरी सीरीज इसी साल वेस्टइंडीज के साथ जून-जुलाई में खेला था।

पाकिस्तान क्रिकेट का बुरा दौर

इस साल की शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका ने पाकिस्तान का दौरा किया था, जिसके बाद माना जा रहा था कि पाकिस्तान में पूरी तरह से इंटरनेशनल क्रिकेट की बहाली हो सकती है। लेकिन, न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों ने पिछले महीने पाकिस्तान पहुंचने के बाद सुरक्षा कारणों का हवाला देकर सीरीज खेलने से इंकार कर दिया।

न्यूजीलैंड टीम का यह कदम पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर काफी भारी पड़ा, साथ ही इसके बाद इंग्लैंड बोर्ड ने भी पाकिस्तान का दौरा रद्द कर दिया। इसी वजह से पाकिस्तान में दोबारा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेले जाने पर सवालिया निशान लग गया है।