सुनील गावस्कर ने बताया क्यों रवींद्र जडेजा को अजिंक्य रहाणे से ऊपर भेजा गया - क्रिकट्रैकर हिंदी

सुनील गावस्कर ने बताया क्यों रवींद्र जडेजा को अजिंक्य रहाणे से ऊपर भेजा गया

पुजारा के आउट होने के बाद नंबर पांच पर बल्लेबाजी करने आए थे जडेजा।

Ravindra Jadeja
Ravindra Jadeja. (Photo by Nathan Stirk/Getty Images)

ओवल के मैदान पर इंग्लैंड और भारत के बीच चौथे टेस्ट मैच की पहली पारी का खेल जारी है। पहली पारी का पहला सत्र एक बार फिर इंग्लैंड के नाम रहा है क्योंकि इंग्लिश टीम के तेज गेंदबाजों ने एक बार फिर भारतीय शीर्ष क्रम का काम तमाम कर दिया। भारत के शीर्ष तीन बल्लेबाज पहले सत्र में आउट होकर पवेलियन लौट चुके हैं।

वैसे तो भारतीय कप्तान विराट कोहली अक्सर अपने फैसलों से सबको चौंकाते रहते हैं लेकिन आज जो उन्होंने किया, उसे देखकर क्रिकेट फैंस समेत कई विशेषज्ञ हैरान हो गए। दरअसल, चेतेश्वर पुजारा एक बार फिर जेम्स एंडरसन की गेंद पर जॉनी बेयरस्टो को अपना कैच दे बैठे, जिसके बाद सबको उम्मीद थी कि भारतीय टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे बल्लेबाजी करने के लिए आएंगे लेकिन उसी वक्त मैदान पर रवींद्र जडेजा की एंट्री हुई जिसने सबको हैरानी में डाल दिया।

नंबर-5 पर जडेजा को भेजे जाने पर गावस्कर ने क्या कहा?

पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुनील गावस्कर इस मैच में कमेंट्री कर रहे हैं और उन्होंने कप्तान कोहली के इस फैसले के पीछे की वजह समझाने की कोशिश की। गावस्कर ने बताया कि जडेजा को दूसरे छोर पर दाएं-बाएं कॉम्बिनेशन की वजह से बुलाया गया है। वो दूसरे छोर से गेंदबाजों की लाइन बिगाड़ने का काम करेंगे। हालांकि, इस फैसले ने सुनील गावस्कर को भी हैरान कर दिया।

सुनील गावस्कर ने कमेंट्री करते हुए बताया कि “मुझे लगता है कि जडेजा लेफ्ट-राइट कॉम्बिनेशन और गेंदबाजों की लाइन को तंग करने के लिए नंबर 5 पर आए हैं। जडेजा ने इस सीरीज में अच्छी पारियां खेली हैं और पिच पर टिकने का भी काम किया है। पंत इस सीरीज में लय में नहीं नजर आए हैं, लेकिन मुझे नहीं मालूम कि रहाणे को क्यों ऊपर नहीं भेजा गया। तस्वीर देखकर ऐसा लगा कि मानों वो अभी बल्लेबाजी करने के लिए तैयार नहीं थे।”

मौजूदा सीरीज में रवींद्र जडेजा का प्रदर्शन

*सीरीज की पांच पारियों ने जडेजा ने अब तक कुल 133 रन बनाए हैं।
*इस सीरीज में जडेजा का औसत 26.6 का है।
*इस दौरान उनका सर्वाधिक स्कोर 56 रन है।
*रवींद्र जडेजा ने टेस्ट में अब तक तीन बार नंबर 5 पर बल्लेबाजी की है।