रहाणे और पुजारा को लेकर हर गुजरते पारी के साथ बदल रहा है गावस्कर का बयान - क्रिकट्रैकर हिंदी

रहाणे और पुजारा को लेकर हर गुजरते पारी के साथ बदल रहा है गावस्कर का बयान

जोहान्सबर्ग टेस्ट के दूसरी पारी में रहाणे और पुजारा ने जड़ा था अर्धशतक।

Sunil Gavaskar, Cheteshwar Pujara And Ajinkya Rahane (Image Credit- Getty Images)
Sunil Gavaskar, Cheteshwar Pujara And Ajinkya Rahane (Image Credit- Getty Images)

पिछली कुछ पारियों में अप्रभावी प्रदर्शन के कारण चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे का टेस्ट टीम में स्थान सवालों के घेरे में आ गया था। हालांकि, पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर का मानना ​​है कि उन्होंने दूसरी पारी में प्रदर्शन से टीम में अपनी जगह को सही ठहराया है। उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय टीम को पुजारा और रहाणे के साथ रहना चाहिए क्योंकि उन्होंने अतीत में जो किया है उसे एक दिन में नहीं भुला जा सकता है।

आपको बता दें कि ये वही सुनील गावस्कर हैं जिन्होंने जोहानिसबर्ग टेस्ट की पहली पारी में चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे के फ्लॉप होने के बाद कहा था कि इनके पास अपना करियर बचाने के लिए बस एक पारी और बची है। अब जैसे ही उन्होंने दूसरी पारी में अर्धशतक लगाया है पूर्व कप्तान ने अचानक से अपने सुर बदल लिए हैं।

हमें अनुभवी खिलाड़ियों पर भरोसा दिखाना चाहिए: गावस्कर

स्टार स्पोर्ट्स के शो में गावस्कर ने कहा कि, “देखिए, वो अनुभवी हैं और उन्होंने टीम के लिये बीते समय में जो कुछ किया है, उससे टीम ने उनका समर्थन किया। उन्हें खुद पर भरोसा था कि वो अच्छा करेंगे और उन्होंने ऐसा किया भी। कभी-कभ हम अपने सीनियर खिलाड़ियों के प्रति थोड़ा सख्त हो सकते हैं।”

पूर्व सलामी बल्लेबाज ने आगे कहा कि, “क्योंकि आपके पास रोमांचक युवा खिलाड़ी इंतजार कर रहे होते हैं और हम सभी उन्हें थोड़ा खेलते हुए देखना चाहते हैं। लेकिन जब तक ये सीनियर खिलाड़ी अच्छा खेल रहे हैं और बुरी तरह से आउट नहीं हो रहे, तो मुझे लगता है कि हमें उन पर भरोसा दिखाना चाहिए।”

इस बीच, दक्षिण अफ्रीका ने डीन एल्गर के बल्लेबाजी प्रयासों के कारण जोहान्सबर्ग टेस्ट को सात विकेट से जीतकर भारत के खिलाफ सीरीज बराबर कर ली। एल्गर ने 188 गेंदों पर 96 रन बनाए और इस प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। दोनों टीमें अब 11 जनवरी से शुरू हो रहे तीसरा और आखिरी टेस्ट खेलने के लिए केपटाउन जाएंगी।