जब एक समय पर टेस्ट मैच के दौरान भारत के 12 खिलाड़ियों ने की फील्डिंग - क्रिकट्रैकर हिंदी

जब एक समय पर टेस्ट मैच के दौरान भारत के 12 खिलाड़ियों ने की फील्डिंग

Headingley Test
Team India. (Photo Source: Getty Images)

क्रिकेट विश्व के सबसे लोकप्रिय खेल महाकुम्भ में से एक हैं. क्रिकेट कभी-कभी ऐसी घटनाएँ गवाह बनता है, जोकि इस खेल के नियमों के अनुरूप हैं. क्रिकेट में जब भी इस तरह की घटना देखने को मिलती है, जब-जब यह घटनाएँ इतिहास में दर्ज हो जाती हैं. आज इस लेख में हम ऐसी घटना को याद करेगे, जब एक टेस्ट मैच के दौरान भारत की टीम के 12 खिलाड़ियों ने एक साथ मैदान पर फील्डिंग की, और ऐसा एक या दो गेंद के लिए नहीं बल्कि पुरे एक ओवर तक चलता रहा.

लीड्स टेस्ट 1986 के दौरान देखने को मिली यह घटना

वर्ष 1986 में भारत के इंग्लैंड दौरे के दौरान लीड्स टेस्ट में यह यादगार घटना देखने को मिली. दरअसल मैच में भारत के सलामी बल्लेबाज़ एस. श्रीकांत किसी कारणवश मैदान से बाहर गए, और बतौर प्रतिस्थापन खिलाड़ी के रूप में रमन लम्बा फील्डिंग करने आए.

इसके कुछ देर बाद श्रीकांत बिना किसी को बताए मैदान पर वापस लौट आए, यहाँ तक की इसके बारे में लम्बा को भी नहीं पता चला और वह फील्डिंग करते रहे. इस तरह लीड्स टेस्ट में भारत 12 खिलाड़ियों ने अंतराष्ट्रीय मैच में फ़ील्डिंग की. इस दौरान ख़ास बात यह रही, कि इस के बारे में मैदानी अंपायर को भी पता नहीं चला. रवि शास्त्री का ओवर खत्म होने के बाद श्रीकांत ने रमन लम्बा को बताया, कि वह वापसी आ गए और लम्बा मैदान से बाहर गए.

रमन लम्बा का करियर

भारत के पूर्व बल्लेबाज़ रमन लम्बा लीड्स टेस्ट में ऐतिहासिक घटना का हिस्सा रहे. हालाँकि अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में लम्बा का सफ़र बेहद छोटा रहा. उन्हों ने भारत के लिए 4 टेस्ट मैचो में 20.5 की औसत से 102 रन बनाए, जबकि एकदिवसीय क्रिकेट में लम्बा ने 27 की औसत से 783 रन बनाए. अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में साधारण प्रदर्शन करने वाले रमन ने अपने प्रथम श्रेणी करियर में शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने ने 121 प्रथम श्रेणी मैचो में 53.84 की अद्भुत औसत से 8776 रन बनाये, जिस दौरान लम्बा ने 31 शतक और 27 अर्द्धशतक भी लगाए.

~ लेखक गौतम