वो तीन मौके जब बीच मैदान में ही फूट पड़ा था राहुल द्रविड़ का गुस्सा - क्रिकट्रैकर हिंदी

वो तीन मौके जब बीच मैदान में ही फूट पड़ा था राहुल द्रविड़ का गुस्सा

राहुल द्रविड़ आज अपना 49 वां जन्मदिन मना रहे हैं।

Rahul Dravid’s tussle with Shoaib Akhtar in CT 2004
Rahul Dravid & Shoaib Akhtar (Photo by Laurence Griffiths/Getty Images)

टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ 49 साल के हो चुके हैं। उनके जन्मदिन के मौके पर ही टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच खेलेगी। केपटाउन के मैदान पर भारतीय टीम जीत के साथ इतिहास रचते हुए द्रविड़ को जन्मदिन का तोहफा देना चाहेगी। इस सीरीज में दोनों टीमें एक-एक की बराबरी पर है और तीसरा मैच जीतने वाली टीम ही सारीज अपने नाम करेगी।

दक्षिण अफ्रीका की धरती पर भारत अब तक कोई टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाया है। ऐसे में भारतीय खिलाड़ी अपने कोच का यह जन्मदिन बेहद खास बनाने की कोशिश करेगी। आमतौर पर राहुल द्रविड़ क्रिकेट की दुनिया में बहुत शांत स्वभाव और जेंटलमैन वाली इमेज के लिए जाने जाते हैं। बहुत कम लोगों ने ही द्रविड़ को मैदान पर गुस्सा होते हुए देखा होगा।

लेकिन हां कुछ मौके ऐसे भी आए हैं जब द्रविड़ अपने गुस्से पर काबू नहीं रख सके और अपने उस गुस्से की वजह से कुछ मौकों पर वह विवादों में भी रहे और जमकर सुर्खियां बटोरी। आइए एक नजर डालते हैं उन मौकों पर जब राहुल द्रविड़ गुस्से में अपना आपा खो बैठे थे।

वो तीन मौके जब राहुल द्रविड़ का फूटा गुस्सा

1) जब राहुल द्रविड़ ने गुस्से में फेंकी थी अपनी कैप

Rahul Dravid. (Photo source: Indraneal/Twitter)
Rahul Dravid. (Photo source: Indraneal/Twitter)

हम जिस मामले की बात कर रहे हैं यह IPL के 2014 में खेले गये सीजन का है जब राहुल द्रविड़ राजस्थान रॉयल्स (RR) की टीम के साथ बतौर मेंटॉर जुड़े हुए थे। RR की टीम अपना आखिरी लीग मुकाबला मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेल रही थी, जिसमें उनको क्वालिफाई करने के लिये सिर्फ 2 अंकों की दरकार नहीं थी बल्कि उन्हें मुंबई को बाहर करने के लिये उसे 14.3 ओवर्स में स्कोर का पीछा करने से रोकना था।

राजस्थान ने उस मैच में मुंबई के सामने 190 रनों का बड़ा लक्ष्य रखा था। जवाब में मुंबई की टीम ने विस्फोटक शुरुआत की और 14वें ओवर की तीसरी गेंद तक मुंबई की टीम ने 189 रन बनाकर स्कोर बराबर कर लिया था। स्टेडियम में बैठे सभी लोगों को लगा कि राजस्थान की टीम ने मुंबई को आगे बढ़ने से रोक लिया है और मुंबई की टीम को प्लेऑफ से बाहर कर दिया है, लेकिन अगली गेंद पर मुंबई इंडियंस के बल्लेबाज ने छक्का जड़कर राजस्थान की टीम को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया और प्लेऑफ में क्वालिफाई कर गई।

राजस्थान रॉयल्स के डगआउट में बैठे राहुल द्रविड़ इस शॉट के बाद अपनी सीट से खड़े हुए और गुस्से में अपने सिर की टोपी को मैदान पर फेंकते नजर आए। कैमरे ने यह नजारा तुरंत कैद कर लिया। एक यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए राहुल द्रविड़ ने इस मशहूर घटना पर बात की और कहा, वह मेरे करियर के सबसे खराब पलों में से एक रहा जिस पर मुझे गर्व नहीं है, लेकिन मैंने हमेशा किसी न किसी तरीके से अपने भावनाओं को कैद करने में कामयाबी हासिल की है। हालांकि उस दिन ऐसा नहीं हो सका।