BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भारतीय टीम के दक्षिण अफ्रीका दौरे को लेकर अब दी यह बड़ी अपडेट - क्रिकट्रैकर हिंदी

BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भारतीय टीम के दक्षिण अफ्रीका दौरे को लेकर अब दी यह बड़ी अपडेट

सौरव गांगुली ने अपने इस बयान में यह साफ कर दिया कि खिलाड़ियों की सुरक्षा को सबसे पहले ध्यान में रखा जाएगा।

Indian Cricket Team. (Photo Source: Getty Images)
Indian Cricket Team. (Photo Source: Getty Images)

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भारतीय टीम के आगामी दक्षिण अफ्रीका दौरे को लेकर अपने एक बयान में यह साफ कर दिया है कि यह तय समयानुसार होगा। दरअसल दक्षिण अफ्रीका में कोरोना संक्रमण के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के सामने आने के बाद वहां पर इसके मामलों को तेजी देखने को मिली है।

जिसको लेकर यह खबरें सामने आने लगी थी कि भारतीय टीम का दक्षिण अफ्रीका दौरा रद्द किया जा सकता है। क्योंकि कई देशों ने इस नए वेरिएंट के वहां पर सामने आने के बाद यात्रा प्रतिबंध तक लगा दिए हैं। लेकिन BCCI किसी बड़े फैसले पर पहुंचने से पहले अभी स्थिति का पूरी तरह से आकलन कर रही है।

जहां ICC ने अफ्रीका रीजन में चल कई बड़ी प्रतियोगिताओं को ओमिक्रॉन वेरिएंट के सामने आने के बाद उन्हें रद्द कर दिया। वहीं दक्षिण अफ्रीका के दौर पर गई हुई भारतीय-ए टीम के दौरे को लेकर BCCI ने उसे जारी रखने का फैसला किया। वहीं भारतीय सीनियर टीम को 17 दिसंबर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच जोहान्सबर्ग के वांडर्स स्टेडियम में खेलना है।

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार सौरव गांगुली ने अपने बयान में कहा कि, यह दौरा अभी तय समय के अनुसार की होगा, वहीं अभी हमारे पास बड़ा फैसला लेने के लिए पर्याप्त समय बाकी है। क्योंकि पहला टेस्ट मैच 17 दिसंबर को खेला जाना है तब तक हम इस पर विचार कर सकते हैं।

खिलाड़ियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य हमारे लिए पहली प्राथमिकता

न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज समाप्त होने के बाद 8 या 9 दिसंबर को भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए रवाना हो सकती है। जिसमें टीम को वहां पर पहले 3 मैचों की टेस्ट सीरीज के बाद 3 मैचों की वनडे और 4 मैचों की टी-20 सीरीज खेलनी है।

वहीं BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने अपने बयान में आगे कहा कि, हमारे लिए खिलाड़ियों की सुरक्षा और उनका स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता और हम इसी को ध्यान में रखते हुए फैसला करेंगे। जिसमें हम इन दोनों ही चीजों के साथ किसी तरह का समझौता नहीं करने वाले हैं।