पूर्व कप्तान हबीबुल बशर का मानना बांग्लादेश टीम दुनिया की किसी भी बड़ी टीम को दे सकती है तगड़ी चुनौती - क्रिकट्रैकर हिंदी

पूर्व कप्तान हबीबुल बशर का मानना बांग्लादेश टीम दुनिया की किसी भी बड़ी टीम को दे सकती है तगड़ी चुनौती

बांग्लादेश के लिए यह बेहद जरूरी था कि वह अपनी शुरुआत जीत से करें और इस जीत से उन्हें काफी आत्मविश्वास मिला होगा: हबीबुल बशर

habibul bashar on bangladesh team (pic source-twitter)
habibul bashar on bangladesh team (pic source-twitter)

बांग्लादेश के पूर्व कप्तान हबीबुल बशर ने कहा है कि उनकी टीम की गेंदबाजी काफी अच्छी है और इस टी-20 वर्ल्ड कप 2022 टूर्नामेंट में वो किसी भी टीम को तगड़ी चुनौती दे सकती है।

बता दें, 24 अक्टूबर को खेले गए नीदरलैंड के शानदार खिलाफ मुकाबले में बांग्लादेश ने 9 रन से जीत दर्ज की। उन्होंने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 144 रन बनाए। जवाब में नीदरलैंड 20 ओवर में 135 रन पर ऑलआउट हो गई। बांग्लादेश की ओर से तस्कीन अहमद ने चार जबकि हसन महमूद ने दो विकेट झटके। बशर ने अपना यह बयान इस जीत के बाद ही दिया।

बांग्लादेश टीम की गेंदबाजी काफी आक्रामक है: हबीबुल बशर

हबीबुल बशर ने क्रिकट्रैकर के शो ‘रन की रननीति’ में कहा कि, ‘बांग्लादेश के लिए यह बेहद जरूरी था कि वह अपनी शुरुआत जीत से करें और इस जीत से उन्हें काफी आत्मविश्वास मिला होगा। यह काफी अच्छी टीम है और उनके पास कुछ शानदार खिलाड़ी भी है। टीम के पास आक्रमक गेंदबाजी है और अगर बल्लेबाज कुछ रन बनाना शुरु कर दें तो वो दुनिया की किसी भी टीम को तगड़ी चुनौती दे सकती है।’

नीदरलैंड के खिलाफ भी बांग्लादेश की बल्लेबाजी काफी निराशाजनक रही थी। टीम की ओर से अफीफ हुसैन ने सर्वाधिक 27 गेंदों में 38 रन बनाए थे। उनके अलावा मोस्देक हुसैन ने 12 गेंदों में 2 चौके और एक छक्के की मदद से 20 रन की पारी खेली। बांग्लादेश टीम ने इससे पहले न्यूजीलैंड में त्रिकोणीय सीरीज खेली थी। इस सीरीज में भी टीम के बल्लेबाजों ने काफी निराशाजनक प्रदर्शन किया था। हालांकि त्रिकोणीय सीरीज के प्रदर्शन को भूलकर वो इस टी-20 वर्ल्ड कप में बेहतरीन बल्लेबाजी करने को देखेंगी।

टीम को अपना अगला मुकाबला दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 27 अक्टूबर को खेलना है और इस मुकाबले को भी वो जीतने के इरादे से मैदान पर उतरेंगे।

बांग्लादेश टीम टी-20 वर्ल्ड कप के लिए:

शाकिब अल हसन (कप्तान), शब्बीर रहमान, मेहदी हसन मिराज, अफीफ हुसैन, मौसादक हुसैन, लिटन दास, यासिर अली, नुरुल हसन, मुस्तफिजुर रहमान, सैफुद्दीन, तस्कीन अहमद, इबादत हुसैन, हसन महमूद, नजमुल हुसैन शांतो और नसुम अहमद।