सबसे बड़े सम्मान से जुड़ी सीरीज के लिए ऑस्टेलियाई कप्तान ने की देश के कप्तान से मुलाकात - क्रिकट्रैकर हिंदी

सबसे बड़े सम्मान से जुड़ी सीरीज के लिए ऑस्टेलियाई कप्तान ने की देश के कप्तान से मुलाकात

जल्द ही इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया एशेज के लिए अपनी-अपनी टीमों का कर सकती है ऐलान।

Tim Paine Australia
Tim Paine. (Photo by PATRICK HAMILTON/AFP via Getty Images)

दिसंबर 2021 में शुरू होने वाली एशेज सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान टिम पेन ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि उन्होंने हाल ही में इस सीरीज को लेकर कुछ संदेश साझा करने के लिए अपने देश के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन से संपर्क किया था। पेन ने कहा है कि उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री से कुछ बातचीत की और कहा है कि मॉरिसन खिलाड़ियों के दृष्टिकोण से सभी मुद्दों को समझने के इच्छुक हैं। कंगारू कप्तान ने ये भी खुलासा किया कि उन्होंने प्रधानमंत्री के साथ कुछ लिखित संदेश भी साझा किया है।

फॉक्स स्पोर्ट्स से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि “मैंने उनसे थोड़ी सी बातचीत की है, लेकिन मेरा समय खत्म हो गया है। वो हमेशा आधार के साथ बात करते हैं, साथ ही वो ये भी जानने के लिए उत्सुक थे कि खिलाड़ियों की दृष्टिकोण से स्टिकिंग प्वाइंट हो सकते हैं। मैंने बॉस (ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री) के साथ कुछ लिखित संदेश साझा किया है और मुझे लगता है कि उन्हें क्रिकेट से बहुत प्यार है।”

खिलाड़ियों की अच्छी परिस्थिति के लिए बोर्ड और सरकार एक साथ कर रही है काम: टिम पेन

टिम पेन ने अपने बातचीत में आगे कहा कि ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट बोर्ड यह सुनिश्चित करना चाहता है कि क्रिकेट खेलने के लिए यहां पर परिस्थितियां अच्छी हों। साथ ही में उन्होंने ये भी कहा कि खिलाड़ियों के लिए सर्वोत्तम स्थिति प्राप्त करने के लिए इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बोर्ड ने मिलकर साथ में काम किया है।

आगामी एशेज सीरीज को लेकर पेन का मानना है कि इंग्लैंड के खिलाड़ी इस सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया आएंगे और साथ ही ये भी कहा कि ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड से कड़ी टक्कर देखने को मिलेगी। कप्तान टिम पेन ने कहा कि “क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया चाहता है कि यहां खेलने के लिए परिस्थितियां अच्छी रहे। बोर्ड और सरकार खिलाड़ियों को बेहतर स्थिति प्रदान करने के लिए एक साथ काम कर रहे हैं। मैंने सुना है कि इस सीरीज के लिए सभी इंग्लैंड के खिलाड़ी अपनी हामी भरेंगे।”