लीड्स टेस्ट की हार पर कप्तान कोहली ने बल्लेबाजों के प्रदर्शन पर नाराजगी जताते हुए दिया बड़ा बयान - क्रिकट्रैकर हिंदी

लीड्स टेस्ट की हार पर कप्तान कोहली ने बल्लेबाजों के प्रदर्शन पर नाराजगी जताते हुए दिया बड़ा बयान

लीड्स टेस्ट मैच में भारत को मिली एक पारी और 76 रनों से हार

Virat Kohli. (Photo by PAUL ELLIS/AFP via Getty Images)
Virat Kohli. (Photo by PAUL ELLIS/AFP via Getty Images)

इंग्लैंड और भारत के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच लीड्स के मैदान पर खेला गया। तीसरा टेस्ट मैच के चौथे दिन ही भारतीय टीम दूसरी पारी में 278 रनों पर सिमट गई और भारत ये टेस्ट मैच एक पारी और 76 रनों से तीसरा टेस्ट हार गया, जिसके बाद अब ये सीरीज 1-1 की बराबरी पर पहुंच चुका है।

चौथे दिन का खेल शुरू होते ही सबसे पहले चेतेश्वर पुजारा 91 के स्कोर पर शतक के दवाब में अपना विकेट गंवा बैठे। हालांकि, इसके बाद विराट कोहली ने इस सीरीज में अपना पहला अर्धशतक बनाया और उम्मीद थी कि आज उनका शतक का सूखा खत्म होगा लेकिन वो भी 55 रन बनाकर रॉबिंसन की गेंद पर आउट हो गए और उसके बाद भारतीय टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गई।

इंग्लिश गेंदबाजों ने बनाया हमारे बल्लेबाजों पर अच्छा दवाब: विराट कोहली

मैच के बाद बात करते हुए विराट कोहली ने कहा कि “हम स्कोर बोर्ड के दवाब में आकर बिखर गए। हमने दूसरी पारी में कुछ अच्छी साझेदारियां भी की लेकिन इंग्लैंड के गेंदबाजों ने हमारे ऊपर अच्छा दवाब बनाया और हमारे बल्लेबाजों ने उसका अच्छा जवाब दिया। इंग्लैंड जैसे हालात में कभी भी किसी भी टीम की बल्लेबाजी ढह सकती है। हालांकि, ये पिच बल्लेबाजी के लिए बहुत अच्छी थी लेकिन उनके गेंदबाजों की अनुशासित गेंदबाजी ने हमें गलतियां करने पर मजबूर किया। ईमानदारी से कहूं, तो वे जीतने के योग्य थे।”

विराट ने आगे कहा कि “पिच बल्लेबाजी करने के लिए अच्छी लग रही थी और जब इंग्लैंड ने बल्लेबाजी की तो वह ज्यादा नहीं बदली थी, इसलिए उन्होंने बल्ले से बहुत अधिक इरादा दिखाया और बेहतर निर्णय भी लिये। ईमानदारी से कहूं, तो वे जीतने के योग्य थे।”

हमारे टॉप ऑर्डर बल्लेबाजों को और रन बनाना होगा: विराट

विराट कोहली ने अपनी टीम के बारे में बात करते हुए कहा कि “यह नहीं मान सकते कि हमारे पास बैटिंग में गहराई नहीं है। ऊपरी क्रम से रन बनने के बाद लोअर मिडिल ऑर्डर को सेटअप मिलता है। निचला क्रम हर बार बेहतर नहीं कर सकता। सकारात्मकता के लिहाज से हमारे पास इस गेम में दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने के अलावा और कुछ नहीं था।”

दूसरे स्पिनर को खेलने के लेकर जब कप्तान कोहली से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि, “पिच पर निर्भर करेगा कि हमें दूसरे स्पिनर को खिलाना है या नहीं। यह नमी पर है कि मैं पांच दिन तक कैसे जाता है। चौथे सीमर का दबाव कभी-कभी महत्वपूर्ण होता है और कभी-कभी हमें यह सुनिश्चित करना होता है कि केवल तीन सीमर लेने का मतलब है कि स्पिनरों को जल्दी आना होगा। हमें अपनी खामियों को जल्दी से ठीक करने की जरूरत है और हमने पहले भी ऐसा किया है, ओवल टेस्ट के लिए हम तैयार हैं।”