न्यू़ज़ीलैंड दौरे की सबसे बड़ी खोज रहा यह भारतीय खिलाड़ी, कप्तान विराट कोहली का जीता दिल - क्रिकट्रैकर हिंदी

न्यू़ज़ीलैंड दौरे की सबसे बड़ी खोज रहा यह भारतीय खिलाड़ी, कप्तान विराट कोहली का जीता दिल

team India (photo by bcci/twitter)
team India (photo by bcci/twitter)

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच खेली गई सीरीज़ भारतीय टीम के लिए कई मायनों में अहम साबित हुई। इंगलैंड में होने वाले वर्ल्डकप जैसे बड़े टूर्नामेंट से पहले भारतीय टीम को न्यूजीलैंड की पिचों पर अपने खिलाड़ियों के प्रदर्शन से उनका आंकलन करने का बेहतरीन मौका मिल गया। इसके साथ ही टीम इंडिया को मैच के दौरान अपनी कमज़ोरी का भी पता चल गया होगा।

वनडे सीरीज़ टीम इंडिया 4-1 से जीतने में कामयाब रही तो वहीं टी20 मैच में टीम इंडिया को 2-1 से हार का सामना करना पड़ा। टीम इंडिया के लिए इस दौरे में एक खिलाड़ी उनके लिए सबसे बड़ी खोज साबित हुआ। जो अपने प्रदर्शन से कप्तान कोहली का दिल जीतने में कामयाब रहा। यहां बात हो रही है विजय शंकर के बारे में। जिन्होंने न्यूज़ीलैंड पिचों पर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

वनडे सीरीज़ में रहे काफी संतुलित

वनडे सीरीज़ में कप्तान कोहली ने विजय शंकर को एक ऑलराउंर के तौर पर टीम में शामिल किया। पहले मैच में शंकर को बल्लेबाज़ी का मौका नहीं मिला लेकिन उन्होंने गेंदबाज़ी करते हुए 4 ओवरों में 19 रन देते हुए कसी हुई गेंदबाज़ी की। भारत यह मैच 8 विकेट से जीतने में कामयाब रहा।

दूसरे वनडे में भी विजय शंकर को टीम में चुना गया लेकिन बल्लेबाज़ी का मौका नहीं मिला। हालांकि उन्होंने मैच में 2 ओवर गेंदबाज़ी की। तीसरे मैच में विजय शंकर को टीम में खेलने का मौका नहीं मिला। चौथे वनडे में भी शंकर को टीम में नहीं चुना गया।

पांचवें वनडे में बने टीम के लिए संकटमोचक

Vijay Shankar (Photo by Gareth Copley/Getty Images)
Vijay Shankar (Photo by Gareth Copley/Getty Images)

पांचवें वनडे में टीम विजय शंकर को वापस टीम में चुना गया। इस मैच में टीम इंडिया के लिए इस खिलाड़ी ने अपने करियर की सबसे यादगार पारी खेली।

पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया के 18 रन पर 4 विकेट गिर चुके थे। टीम पर हार का खतरा मंडरा रहा था। शंकर ने एक छोर संभालते हुए 64 गेंदों में 45 रनों की पारी खेल डाली। उन्होंने रायडू के साथ बेहतरीन साझेदारी निभाई।

टीम इंडिया मैच में 252 रनों का स्कोर खड़ा कर पाई। लक्ष्य का पीछा करते हुए कीवी टीम 217 रनों पर ऑलआउट हो गई। शंकर ने गेंदबाज़ी में भी जमकर हाथ दिखाए उन्होंने 4 ओवरों में केवल 19 रन दिए।

टी20 में भी रहे हिट

पहले टी20 मैच में विजय शंकर नंबर 3 पर उतरे हुए 27 रनों की पारी खेली। उन्होंने 18 गेंदों में 27 रन बनाए। जिसमें 2 चौके और 2 छक्के शामिल रहे। दूसरे टी20 मैच में शंकर को चौथे स्थान पर खेलने को मिला। उन्होंने 8 गेंदो में 14 रनों की छोटी पारी खेली। जिसमें 10 रन केवल चौके और छक्के से बनाए।

तीसरा टी20 भले ही टीम इंडिया हार गई हो लेकिन अगर मैच में किसी नए खिलाड़ी ने प्रभावित किया तो वह विजय शंकर थे। उन्होंने दबाव में खेलते हुए 28 गेंदों में 43 रन ठोक डाले। जिसमें 5 चौके और 2 छक्के लगाए। हालांकि टीम भले ही अंतिम टी20 मैच 4 रन से हार गई हो। लेकिन वर्ल्डकप से पहले टीम इंडिया को एक बेहतरीन खिलाड़ी मिल गया है।